उत्तराखंड बोर्ड की भी 12वीं की परिक्षा रद्द, सरकार ने लिया फैसला

हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

कोरोना के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने सीबीएसई की 12वीं की परीक्षाओं को रद्द कर दिया है। सरकार के इस फैसले का दिल्ली और महाराष्ट्र , हरियाणा और उत्तराखंड सरकार ने स्वागत किया है। सीबीएसई के बाद ICSE और उत्तराखंड बोर्ड ने भी 12वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी हैं। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के मुताबिक बैठक के बाद ये फैसला किया है।  देश में सीबीएसई और आईसीएससी बोर्ड की परीक्षा को लेकर जो निर्णय हुआ है। राज्य सरकार उस फैसले से बाहर नहीं हैं। परिस्थितियों को देखते हुए प्रदेश में भी बोर्ड की परिक्षाएं रद्द कर दी है।

परीक्षा

बता दें कि उत्तराखंड बोर्ड की 12 वीं की परीक्षा के लिए एक लाख 23 हजार से अधिक बच्चे पंजीकृत हैं, जिन्हें कोविड वैक्सीन नहीं लगी।  कोविड की तीसरी लहर से बच्चों को कोरोना संक्रमित होने का खतरा। कोविड कर्फ्यू के चलते स्कूल बंद हैं, हालांकि बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाया गया, लेकिन बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हुई है जिस कारण सरकार ने परिक्षाएं रद्द करने का फैसला किया है।

परीक्षा के लिए बने थे 1347 केंद्र 
उत्तराखंड बोर्ड की 12वीं की परीक्षा के लिए एक लाख 23 हजार से अधिक बच्चे पंजीकृत हैं। जबकि परीक्षा के लिए 1347 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इसमें 223 केंद्र संवेदनशील और 22 परीक्षा केंद्रों को अतिसंवेदनशील घोषित किया गया था।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here