अपनी पहाड़ की बेटी की ख़बर को पढ़े भी ओर शेयर भी करे


जी हां
आपको बता दे की
गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर उत्तराखंड की वीर बालिका बहादुर बेटी राखी को उसके अदम्य साहस के लिए राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के तहत मार्कंडेय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इस भव्य कार्यक्रम में राखी को सम्मानित होता देख जहा पूरा उत्तराखंड खुद पर गर्व महसूस कर रहा है तो वही राखी के मां और पिता  भी गदगद हो गए। ख़ुशी के आंसुओ को देखा जा सकता है
अपने देश की जानी मानी हस्तियों के बीच अपनी लाडली राखी को वीरता पुरस्कार पाता देख उनके माता पिता की आंखें छलक गई।


ओर फिर पुरस्कार मिलने के बाद उन्होंने राखी को गोद में उठाया ओर प्यार से चूम लिया
बता दे कि कल शनिवार देर शाम को भारतीय बाल कल्याण परिषद (आईसीसीडब्ल्यू ) की ओर से दिल्ली में आयोजित भव्य कार्यक्रम में उत्तराखंड की बहादुर बेटी राखी रावत को आसाम राइफल्स के ले. कर्नल रामेश्वर राय के हाथों राष्ट्रीय वीरता आईसीसीडब्ल्यू मार्कंडेय पुरस्कार दिया गया ओर इस अवसर पर राखी की वीरता की पूरी कहानी सुनाई गई।

राखी की कहानी सुनकर दर्शकों ने करतल ध्वनि से राखी के अदम्य साहस की सराहना की। उसके बाद उसे राष्ट्रीय वीरता मैडल, प्रशस्तिपत्र और 40 हजार रुपये का चेक देकर सम्मानित किया गया। राखी के सम्मानित होने के बाद वहां पर राखी के साथ फोटो खिंचाने वाले लोगों की होड़ लग गई।


तो देश की जानी मानी हस्तियों ने भी बहादुर बेटी राखी के साथ सेल्फी ली। राखी की मां शालिनी देवी ने मीडिया को दिल्ली मैं बताया कि उन्होंने अपनी बेटी को इतना सम्मान मिलने की कभी कल्पना भी नहीं की थी।
आज राखी की वजह से पूरा देश उनको भी राखी की मां ओर रखी के पिता के नाम से जानने लगा है। यह हमारे लिए बहुत बड़ी बात है ये कहना था राखी की माता जी का


बहुत बहुत बधाई
रखी आपको।

 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here