पौड़ी जिले का बेचारा रिखणीखाल !

बेचारा रिखणीखाल…

एक बेचारा रिखणीखाल..!!
रोज जहां होते बबाल
युवा मांगे नेता से जवाब
क्यों हो रहा क्षेत्र बदहाल
एक बेचारा रिखणीखाल..!!

रोज बनते बिगड़ते सवाल..!!
शिक्षा स्वास्थ्य में नही कमाल
बेरोज़गारों का भी है सवाल
शराब भांग में न बने मिशाल
एक बेचारा रिखणीखाल..!!

खेल में बच्चों का रोज धमाल..!!                  प्रशासन  सेवा  सुस्त बेहाल
पानी बिजली कब होगा निहाल
विकास मुद्दों में जस के तस सवाल
एक बेचारा रिखणीखाल..!!

तैडिया से ताड़केश्वर तक बंदरों का बबाल..!!
चैनपुर से चपडेट तक शराब का जाल
जनता जंगली जानवरों से हो रही हलाल
वन  अधिकारी बने पैसों के दलाल
एक बेचारा रिखणीखाल..!!

ग्रामीणों का हृदय विसाल..!!
वोट देकर न कोई सवाल
किस के दिल में पलायन का मलाल
प्रवासियों को गाँव जाने का नही ख्याल
एक बेचारा रिखणीखाल..!!

आशा कर्मचारी मांगे बहाल..!!
बुजुर्गों का कैसे जीवन हो खुशाल
उजड़े स्कूल टूटे पुलों का जंजाल
कोई सुनता नही यहां की फ़िलहाल
एक बेचारा रिखणीखाल…!!

देवेश आदमी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here