पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी का एक और धमाका अब सेना करेगी आम जनता का इलाज़ पहाड़ को मिलेगी राहत !

 

उत्तराखंड के पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी का एक ओर बड़ा धमाका अब सेना करेगी आम जनंता का इलाज जी हा भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख और उत्तराखंड से राज्यसभा सांसद पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी ने उत्तराखंड की जनता के लिए स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी सौगात दी है। शनिवार को रक्षा मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण के साथ हुई बैठक में उत्तराखंड के सामान्य नागरिकों को भी सेना के चिकित्सकों द्वारा प्राथमिक उपचार देने हेतु अनुरोध किया, जिस पर रक्षा मंत्री ने सैद्धांतिक सहमति दी है। आपको बता दे कि अनिल बलूनी के इस सफल प्रयास से पर्वतीय जनता को स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में लाभ मिलेगा और ये मील का पत्थर साबित होगा। आपको बता दे कि अर्धसैनिक बलों के चिकित्सकों द्वारा भी उपचार मिले इस सम्बन्ध में रविवार को पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से भेंट का राज्य की बात रखेगे ।

 

सांसद बलूनी की रक्षा मंत्री के साथ उनके साउथ ब्लॉक स्थित कार्यालय में भेंट हुई। बैठक में उत्तराखंड के उन सैन्य क्षेत्रों (छावनियों) में, जहां सेना के चिकित्सक उपलब्ध हैं, उनके द्वारा राज्य के सामान्य नागरिकों को भी चिकित्सकीय सहायता मिले इस विषय पर रक्षा मंत्री से भेंट की तथा दुर्गम क्षेत्रों में प्राथमिक स्वास्थ्य की सुविधा प्रदान करने पर चर्चा हुई।

पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी ने कहा कि रक्षा मंत्री जी ने राज्य के पलायन की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि वे स्वयं उत्तराखंड की परिस्थितियों से अवगत हैं और स्वास्थ्य, शिक्षा तथा रोजगार के लिए निरंतर राज्य से पलायन जारी है, जो कि चिंता की बात है। निःसंदेह सीमांत वासियों के लिए स्वास्थ्य की सुविधा प्राथमिक रूप से मिलनी चाहिये। इसके कार्यान्वन के लिए सेना के संबंधित कमान से चर्चा करेंगी।

आपको बता दे कि सांसद बलूनी ने कहा कि उत्तराखंड प्रदेश में सेना के साथ-साथ ITBP SSB और CRPF की बटालियनें भी हैं, इस संबंध में कल केंद्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ जी से भेंट का समय तय हुआ है। गृहमंत्री जी से अर्धसेना बलों के चिकित्सकों के माध्यम से भी स्थानीय नागरिकों को मेडिकल सुविधा देने हेतु वे अनुरोध करेंगे।

सांसद बलूनी ने कहा कि सेना के देहरादून, रुड़की, लैंसडाउन, हर्षिल, रुद्रप्रयाग, जोशीमठ, रानीखेत, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़ व धारचूला में सैन्य क्षमता के आधार पर मिलिट्री हॉस्पिटल, फील्ड हॉस्पिटल, सेक्शन हॉस्पिटल और जनरल हॉस्पिटल कार्य कर रहे हैं। इसके अतिरिक्त जिला स्तर पर ECHS क्लिनिक कार्य कर रही हैं।

अनिल बलूनी ने बताया कि रक्षा मंत्री से अनुरोध किया गया कि केवल प्राथमिक उपचार, औषधि और मरहम पट्टी स्तर की क्लीनिक जो आम नागरिकों के लिए कुछ घंटे दैनिक रूप से सेवा दें ताकि नागरिकों को स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी राहत मिल सके।
बहराल ज़िस तरह से पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी लगातार राज्य हित मे ख़ास कर पहाड़ वासियो के हित के लिए जो सोच रहे है उसे अमली जामा पहना कर धरातल पर भी उतार रहे है ।जो राज्य वासियो के लिए सुभ सकेत है ।की कोई तो उनको वो नेता मिला जो उनके दुःख दर्द को अपना समझता है और उनको दूर करने के लिए लगातार प्रयास करते है जिसमे उनको सफलता भी मिलती है।जिसके लिए बोलता उत्तराखंड की पूरी टीम पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी को धन्यवाद देती है । सुभकामनाये देती है कि आप लगातार राज्य हित मे इसी प्रकार अपने प्रयासों से एक दिन उत्तराखंड को पीएम मोदी के आशीष से न्यू उत्तराखंड बनाने मे आपकी महत्वपूर्ण भूमिका होगी।
ओर हा आपके इन सफल प्रयासों ने राज्य के सासंदो को जो आईना दिखाया है वो काबिले तारीफ है।
पर इसके साथ ही बलूनी जी सावधान भी रहना आपकी राज्य की जनता के बीच लगातार बढ़ती लोकप्रियता के कारण आपके राजनीतिक विरोधियों की आंख मे आप चुभ भी रहे है।
वैसे भी राज्य के अन्दर नेताओ ने एक दूसरे की टांग खिंचने के सिवाय किया क्या? खेर ये ही लोग अब आप के खिलाफ भी षडयंत्र रच सकते लिहाज़ा इनसे बच कर ही रहना । क्योकि खुद तो उन नेताओं से कुछ होता नही ओर जो प्रयास करते है ,ओर अगर वो प्रयास सफल हो जाये तो फिर उनके खिलाफ षडयंत्र!
बहराल सुभकामनाये आपको ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here