पीएम मोदी देवभूमि में अपना काम पूरा करके चल दिये है अब त्रिवेंद्र सरकार और भाजपा सगठन की अग्नि परीक्षा ।

देवभूमि उत्तराखंड में  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देहरादून के परेड मैदान से चुनावी जनसभा को संबोधित किया। आपको बता दे कि 10 दिन के अंदर उत्तराखंड में ये उनकी ये दूसरी चुनावी रैली थी । प्रधानमंत्री विशेष विमान से जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे। जहां से वह परेड मैदान में पहुंचे और जनता का अभिवादन किया। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उनका स्वागत किया। प्रधानमंत्री मोदी इससे पहले 28 मार्च को रुद्रपुर में चुनावी सभा को संबोधित कर चुके हैं।


ख़बर विस्तार से प्रधानमंत्री ने संबोधन शुरू किया और उत्तराखंडवासियों को हरेला पर्व की पहले बधाई दी। पीएम ने देवी देवताओं को नमन किया और उत्तराखंड को सैन्य धाम बताया। मोदी बोले बाबा केदार के आशीर्वाद से विकास करने में सफल रहा। उत्तराखंड की जनता ने मेरा सहयोग किया।  उन्होंने कहा कि हमारी सरकार कड़े फैसले लेती है। सामान्य वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण हमारी सरकार ने ही दिया है।

कांग्रेस का घोषणा पत्र ढकोसला है। हमारी सरकार अग्रिम मोर्चों पर बड़ा फैसला ले पाई। आप हमेश चट्टान की तरह खड़े रहे। इसलिए 40 साल से लटका वन रैंक वन पेंशन का मुद्दा हम हल कर पाए। जिनकी नियत सिर्फ वोट और नोट बटोरने की रही, उन्होंने तो इसको लटकाने और भटकाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि करप्शन और कांग्रेस का साथ अटूट है। ये ऐसी जुगलबंदी है जो अलग नहीं हो सकती है। कांग्रेस के राज में लोग इस आस में रहते हैं कि कौन कितना ज्यादा घोटाला कर सकता है। देश का ऐसा कोई संसाधन नहीं है जो इनकी लूट से बच पाया है। इसमें भी नामदार परिवार का नाम सबसे ऊपर है। कांग्रेस में भ्रष्टाचार एक्सीलरेटर पर और विकास वेंटीलेटर पर था। आपका ये चौकीदार हैलीकॉप्टर घोटाले के कुछ दलालों को दुबई से उठाकर ले आया था।

 

बोफोर्स तोप या हेलीकॉप्टर हो। हथियार का ऐसा सौदा खोजना मुश्किल हो जाता है, जिसमें कांग्रेस सरकार द्वारा कमीशन की बात सामने न आए। ईटली के स्पेशल मामा और दूसरे दलालों से एजेंसियों ने कई दिन पूछताछ की। इसके आधार पर कोर्ट में चार्जशीट दायर की। इसके दलालों ने जिनको घूस देने की बात कही है, उनमें से एक एपी (अहमद पटेल) है, दूसरा एफएएम (फैमिली) है।
वही पीएम मोदी ने कहा कुछ लोग यहां ऐसी भाषा बोलते हैं तो पाकिस्तान में लोग ताली बजाते हैं। जम्मू कश्मीर में इनके साथी हर रोज कश्मीर को अलग करने की धमकी दे रहे हैं। वो कश्मीर का अलग प्रधानमंत्री चाहते हैं। पीएम मोदी ने सवाल किया कि क्या देश में दो प्रधानमंत्री होंने चाहिए ? कहा, जम्मू कश्मीर के लिए देश के वीर जवानों ने अपनी जान दी, सर्वोच्च बलिदान दिया। हिंदुस्तान के गरीब लोगों ने अपना पेट काटकर वहां की भलाई के लिए पैसे दिए है। वो दो प्रधानमंत्री की बात कर रहे हैं। ये कांग्रेस पार्टी के गठबंधन के साथी हैं। कांग्रेस चुप है। फिर तो सजा कांग्रेस को भी मिलनी चाहिए। पीएम ने कहा, मैं हैरान हूं कांग्रेस अपने साथियों की मदद के लिए ही देशद्रोह का कानून हटाना चाहती है। भारत की एक इंच जमीन पर भी आंच नहीं आने दी जाएगी। पीएम ने कहा  मैं शहीद मोहनलाल, शहीद वीरेंद्र सिंह राणा, शहीद चित्रेश बिष्ट और शहीद विभूति ढौंडियाल की शपथ लेकर कहता हूं कि देश को बांटने वालों के सामने ये आपका चौकीदार दीवार बनकर खड़ा है।
वही पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के मार्गदर्शक जो विशेष रूप से अमेरिका से आए, बड़े अहंकार के सामने ऐसी बातें की, जिससे पता चलता है कि कांग्रेस कैसी साजिश रच रही है। उन्होंने कहा कि मीडिल क्लास स्वार्थी है, लालची है। कांग्रेस सोचती है आप देश के लिए काम नहीं करते, मीडिल क्लास खुद का ही भला सोचता है। मध्यम वर्ग पर टैक्स लगाना गुनाह नहीं है। पीएम ने लोगों से पूछा ईमानदार मध्यम वर्ग को कुचलने की बात आपको मंजूर है क्या। हमारा मध्यम वर्ग का व्यक्ति कानून को मानता है, वह सरकार को कर देने में चोरी नहीं करता। पीएम ने कहा 50 करोड़ गरीबों को आयुष्मान का लाभ मिल रहा है, उसकी वजह मध्यम वर्ग है। किसान परिवारों को हर साल 75 हजार बैंक खातों में पहुंचने शुरू हो गए। वो भी ईमानदार कर दाताओं के कारण मिला।  घर, गैस कनेक्शन, सस्ता राशन ईमानदार कर दाताओं की वजह से संभव हुआ है।
वही कांग्रेस के घोषणा पत्र को ढकोसला बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अगर सेना के जवान को सुरक्षा नहीं मिलेगी तो कौन मां अपने बेटे को सीमा पर भेजेगी। आपके घोषणा पत्र को लानत है। यह पाप है। जान दांव पर लगाने वाले हमारे सैनिकों का हौसला तोड़ने का काम कांग्रेस कर रही है। कांग्रेस का हाथ आतंकियों के साथ है। सेना के जवानों की सुरक्षा जरूरी है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आपका ये चौकीदार, भाजपा और एनडीए की सरकार एक-एक ईमानदार करदाता का दिल से आभारी है। इसलिए हमने पांच लाख तक की आय को टैक्स फ्री कर दिया है। आपके सेवक की सोच स्पष्ट है। कांग्रेस ने पहाड़ से पलायन किया और हमने पहाड़ को रोजगार से जोड़ा। प्रयागराज में भाजपा के डबल इंजन से भव्य कुंभ का आयोजन हुआ, हजारों लोगों को रोजगार मिला। इससे भी ज्यादा भव्य आयोजन उत्तराखंड में 2021 में कराना है। जो आपके सहयोग से ही संभव है। पांच साल आपने मुझे सेवा का मौका दिया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने जनसभा में आए लोगों से पूछा कि आप मेरे काम से खुश हैं, आपको संतोष है, मुझे ऐसे काम करने चाहिए ना, कड़े से कड़े फैसले लेने चाहिए ना, देवभूमि के एक-एक व्यक्ति का आशीर्वाद बना रहेगा ना? इसके बाद उन्होंने मैं भी चौकीदार, गांव में चौकीदार, चौक में चौकीदार, शहर में चौकीदार, गली में चौकीदार, बच्चा चौकीदार, बुजुर्ग चौकीदार, घर में चौकीदार, खेल में चौकीदार, खलिहान में चौकीदार, सरहद में चौकीदार, डॉक्टर चौकीदार, इंजीनियर चौकीदार, पत्रकार चौकीदार, किसान चौकीदार, कामगार चौकीदार, वकील चौकीदार, व्यापारी चौकीदार, छात्र चौकीदार और पूरा देश चौकीदार के नारे लगवाए। भारत माता की जय के साथ प्रधानमंत्री ने अपना संबोधन खत्म किया। बहराल पीएम मोदी देवभूमि मै अपना काम पूरा कर चले गए अब बारी मतदान से पहले सीएम त्रिवेन्द्र को पूरी सरकार और भाजपा सगठन की है कि वे इस बार भी उत्तखण्ड से पाँचो सीटो पर कमल खिलाये ।जो भाजपा सगठन ओर सरकार के लिए अग्नि परीक्षा तो है पर नामुनकिन नही।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here