ख़बर अच्छी नही है
आपको बता दे कि उत्‍तराखंड में कोरोना संक्रमण का संकट अब लगातार गहरा रहा है।
आज यानी शनिवार को छह और पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। ओर अब तक राज्‍य में 22 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है
आज यानी शनिवार को मिले कोरोना संक्रमितों में पांच जमाती नैनीताल और एक हरिद्वार जिले में हैं।
बता दे कि हरिद्वार में कोरोना संक्रमण का यह पहला मामला है। रुड़की के पनियाला गांव निवासी युवक राजस्थान के अलवर में जमात पर गया हुआ था। 31 मार्च को वह रुड़की वापस लौटा और उसी दिन युवक को सिविल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था।। फिलहाल, स्वास्थ्य विभाग की टीम उसके परिजनों को भी लेने गई है। मरीज के पॉजिटिव आने के बाद से ही अस्पताल में हड़कंप की स्थिति है।

उत्तराखंड मै निजामुद्दीन प्रकरण के बाद जमातियों की खोजबीन और स्वास्थ्य प्रशिक्षण के बाद संक्रमित मरीजों का आंकड़ा यकायक ऊपर चढ़ गया है। अन्य राज्यो की तरह।
इससे पहले शुक्रवार को छह जमाती कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे ब इनमें से पांच मरीज देहरादून के हैं, जबकि एक ऊधमसिंहनगर जिले के बाजपुर का। यह सभी लोग तब्लीगी जमात से वापस लौटे हैं। वहीं, अब हरिद्वार में भी कोरोना का पहला मामला सामने आया है, जिससे चिंता और बढ़ गई है। 

वही ख़बर है कि
निजामुद्दीन मरकज सहित अन्य जगह से लौटे जमातियों को ज्वालापुर में हिरासत में लिया गया। फिलहाल उन्हें कलियर में क्वारंटाइन किया गया है। ज्वालापुर कोतवाल योगेश सिंह देव ने बताया कि दिल्ली मरकज और अन्य जगह से ज्वालापुर में  जमाती वापस घरों को लौटे थे। उन सभी को पकड़ने के बाद मेडिकल परीक्षण कराकर उन्हें  कलियर में क्वारंटाइन किया गया है। कोतवाल ने बताया अभी अन्य जमातियों की तलाश की जा रही है।

 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here