कल देहरादून में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बूथ से लेकर प्रदेश स्‍तर तक कार्यकर्त्‍ताओं के साथ वर्चुअली संवाद किया। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि अमेरिका का चुनाव कोविड के मैनेजमेंट व डिस्‍मैनेजमेंट पर हुआ। ट्रंप को सत्‍ता गंवानी पड़ी, राष्ट्रपति का पद खोना पड़ा। अमेरिका फैसला नहीं कर पाया कि जान महत्‍वपूर्ण है या जहान,
हेल्‍थ महत्‍वपूर्ण है या इकॉनमी। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 130 करोड़ देशवासियों के साथ सबसे आगे खड़े रहे।
उन्‍होंने जनता को विश्‍वास में लेकर लॉकडाउन लगाया और जनता को बचाया।

उन्होने कल बूथ से लेकर प्रदेश स्‍तर तक के कार्यकर्त्‍ताओं के साथ वर्चुअली संवाद किया। इस दौरान उन्‍होंने भाजपा सरकार की उपलब्धि गिनाई। जेपी नड्डा ने कहा कि कोरोना काल में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहद मजबूत किया गया है। स्वास्थ्य ही स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाया भी गया है।
भाजपा ने आपदा को अवसर में बदला, कोरोनाकाल में स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं को बढ़ाकर मजबूत किया है। जहां पहले हम 1500 टेस्टिंग करते थे जिसे बढ़ाकर 15 लाख तक ले गए। पहले पीपीई किट बाहर से मंगाई लेकिन अब साढ़े चार लाख पीपीई किट बाहर भेज रहे हैं।

Nadda ने मंडल अध्‍यक्ष शक्तिकेंद्र प्रभारियों को प्रवास पर जोर दिया। कहा कि विभिन्‍न क्षेत्रों में जाकर अधिकाधिक व्‍यक्तियों से जुड़ें। उन्‍होंने आइटी सेल को मजबूत करने पर जोर दिया। कहा कि जनता और सरकार के बीच सेतु बनने का कार्य करें। उन्‍होंने लोकल फोर वोकल का नारा देते हुए कहा कि केंद्रीय योजनाओं को जागरूक करें, केंद्रीय व स्‍थानीय उत्‍पादों को भी बढ़ावा दिया जाए। 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here