पूर्व सीएम हरीश रावत बोले,उत्तराखंड में रोजगार की हो गई हत्या तो 2022 में सत्ता में आएंगे, 2024 तक गैरसैंण को स्थायी राजधानी बनाएंगे ओर बोले भगत सिर्फ रावत को छपास रोग।

 

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सोमवार को भी उत्तराखंड सरकार पर हमलावर दिखे। पूर्व सीएम रावत ने बेरोजगारी को लेकर उत्तराखंड सरकार पर जमकर तंज कसे। उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रदेश में रोजगार की हत्या कर दी। प्रदेश में बेरोजगारी का ग्राफ देश के अन्य राज्यों की अपेक्षा काफी अधिक है। वे द्वाराहाट में बोले कि 2022 में कांग्रेस की सरकार आने पर 2024 तक गैरसैंण को स्थायी राजधानी बनाया जाएगा।


देशभर में 30 प्रतिशत बेरोजगारी बढ़ी है, जबकि उत्तराखंड में यह आंकड़ा 32 प्रतिशत पहुंच गया है। कहा कि पिछले साढ़े तीन साल में अधीनस्थ चयन आयोग ने रिक्त पदों के सापेक्ष जो भी विज्ञप्तियां निकाली प्रदेश सरकार ने अलग-अलग स्टेज पर उनकी हत्या कर दी।
यानी कोई नियुक्तियां की ही नहीं की गई।
रावत ने कहा कि बेरोजगारी के सवाल पर यूथ कांग्रेस देशभर में कार्यक्रम चला रही है। इस मुद्दे पर जल्दी वह एक दिन का उपवास करेंगे।
गैरसैंण से बग्वालीपोखर पहुंचे हरीश रावत ने कहा कि वह गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन सरकार से भेंट करने गए थ, लेकिन भाजपा की ग्रीष्मकालीन राजधानी का कहीं पता नहीं है। न वहां सचिव है और न ही काई मंत्री। रावत ने कहा कि 2022 में कांग्रेस की सरकार आएगी और 2024  तक गैरसैंण को स्थायी राजधानी बनाएंगे। 
वही पत्रकारों से मुखातिब होने हुए पूर्व सीएम हरीश ने कहा कि प्रदेशभर में स्वास्थ्य सेवाओं का बुरा हाल है। उनकी सरकार ने स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने का काम किया। इस सरकार ने सब ठंडे बस्ते में डाल दिया। कहा कि भाजपा ने भ्रष्टाचार सरकारीकरण कर दिया है। आपदा मद का सारा काम कार्यकर्ताओं को दिया जा रहा है। कोरोना को अपनी अर्थ व्यवस्था सुधारने का जरिया बना दिया गया है।  हरीश रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार वर्षाकाल में तक सड़कों की देखभाल नहीं कर पा रही है। बंद सड़कों को खोलने का काम नहीं हो रहा है। नई सड़कें नहीं बन रही हैं। उन्होंने कहा कि कम से कम सड़कों को दुरुस्त रखना चाहिए। 
वही गैंरसैंण ग्रीष्मकालीन राजधानी पर हो रही सियासत के सवाल पर हरीश रावत ने कहा कि इस समय वह छह मासी जागर पर हैं। जागर जब लगाया जाता है तो देवता नाचने लगते हैं। उन्होंने कहा कि गैरसैंण राजधानी बनने से उत्तराखंड के लिए नई संभावनाएं पैदा होंगी। राज्य के हर क्षेत्र के लिए अच्छे अवसर पैदा होंगे
तो वही भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशी धर भगत ने कहा कि अब कांग्रेस ने भी मान लिया है कि मोदी का कोई मुक़ाबला नहीं कर सकता।
कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बयान कि उत्तराखंड में अगले विधान सभा चुनाव में मोदी बनाम कांग्रेस न होकर कांग्रेस को त्रिवेंद्र बनाम कांग्रेस करना होगा।
भगत ने कहा कि वे हरीश रावत को उनकी इस ईमानदार स्वीकार्यता के लिए बधाई देते हैं कि मोदी जी का कोई मुक़ाबला नहीं है। उन्होंने कहा कि जहाँ तक अगले विधान सभा चुनाव का सवाल है तो भाजपा हर प्रकार से चुनाव के लिए तैय्यार है, चाहे कांग्रेस किसी भी प्रकार से चुनाव लड़ना चाहे। साथ ही यह भी तय है कि प्रदेश में अगली सरकार भारी बहुमत से भाजपा की ही बनेगी।
भगत ने हरीश रावत की गैरसैण यात्रा पर कहा कि रावत को छपास रोग हो गया है । वे कोई न कोई ऐसा काम करने की कोशिश करते हैं जिससे वे खबरों में आ सके।यह यात्रा भी वैसी ही है । बाक़ी जो काम वहाँ अभी होने हैं वे हो रहे हैं।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here