मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कल कहा है कि इस साल के अंत तक कोरोना की वैक्सीन आ जाएगी।
ओर उत्तराखंडवासियों तक इस वैक्सीन को पहुंचाने के लिए कवायद शुरू कर दी गई है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि
अब हर 15 दिन में समीक्षा बैठक भी की जाएगी।
सीएम रावत ने कहा कि यह साल कोरोना की वजह से सभी के लिए बेहद चुनौतीपूर्ण रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन सिंह ने इस साल के अंत तक या नए साल की शुरुआत में कोरोना वैक्सीन आने के संकेत दिए हैं।

राज्य में एक साथ एक करोड़ वैक्सीन तो नहीं मिल पाएंगी, लेकिन वैक्सीन को सभी लोगों तक पहुंचाने के लिए कवायद शुरू कर दी गई है। अभी तक के लिए हिसाब से फ्रंट लाइन पर कोरोना से लड़ रहे वॉरियर्स को यह वैक्सीन देने की योजना है।

वही मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने पहाड़ में स्वास्थ्य सुविधाओं के बुरे हाल अपनी आंखों से देखे हैं। उनकी नजरों के सामने तमाम ऐसे वाकये हुए हैं, जब इलाज न मिलने की वजह से लोगों की जान चली गई। इसलिए उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं को अपनी प्राथमिकता में रखा हुआ है।
आज प्रदेशभर में लगभग 2500 चिकित्सक उपलब्ध हैं। ओर जल्द ही लगभग 400 और चिकित्सक मिल जाएंगे।
इसके अलावा लगभग 1400 नर्सिंग स्टाफ भी नियुक्त होने जा रहा है।
उत्तराखंड में अगले कुछ सालो के भीतर मेडिकल और पैरामेडिकल संस्थानों की संख्या में भी इजाफा होने जा रहा है। 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here