भाजपा द्वारा आम आदमी पार्टी द्वारा गंगा स्केप चैनल को लेकर किए जा रहे दुष्प्रचार की निंदा की व बयान वापस लेने के साथ माफ़ी माँगने को कहा

 

हरिद्वार में गंगा जी को स्केप चैनल घोषित किए जाने के बारे में आम आदमी पार्टी के द्वारा ऑडियो रिकॉर्डिंग के माध्यम से भाजपा सरकार पर लगाये जा रहे गलत आरोपों की भर्त्सना करते हुए कहा है कि इस प्रकार का भ्रामक प्रचार आम आदमी पार्टी के चरित्र का हिस्सा है ।उसे अपना बयान वापस लेना चाहिए तथा माफ़ी माँगनी चाहिए।

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ.देवेंद्र भसीन ने कहा कि कांग्रेस की बी टीम आम आदमी पार्टी के द्वारा एक टेलीफोन नंबर से लोगों को फोन से रिकॉर्ड किया हुआ मैसेज दिया जा रहा है कि हरिद्वार में गंगा नदी को एस्केप चैनल घोषित करने का कार्य प्रदेश की भाजपा सरकार का था और आम आदमी पार्टी द्वारा किए गए आंदोलन से सरकार ने अब अपना निर्णय वापस लिया है ।उन्होंने कहा कि यह बयान शरारत पूर्ण और राज्य सरकार को बदनाम करने की साजिश का हिस्सा है ।क्योंकि इस बात को सभी लोग जानते हैं कि गंगा नदी को हरिद्वार में स्केप चैनल घोषित करने का कार्य प्रदेश की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार द्वारा किया गया था और इस बारे में तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत द्वारा कुछ समय पूर्व संतो के बीच जाकर सार्वजनिक तौर पर अपनी गलती भी मानी गई थी । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा था कि हम गंगा जी को अपने संस्कृति का महत्वपूर्ण अंग व पहचान मानते हैं और यह महान नदी जहां एक और आधे देश को जल देती है वही यह हमारी आस्था का केंद्र है ।अतः हमारी सरकार इसे पुनः वही प्रतिष्ठा प्रदान करेगी और इसे फिर नदी घोषित किया जाएगा ।अभी हाल ही में मुख्यमंत्री द्वारा इस बात की घोषणा गंगा सभा की बैठक में भी की गई और इस संबंध में शीघ्र आदेश जारी किया जा रहा है । उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का बयान पूरी तरह निराधार है और भ्रम फैलाने और बार-बार झूठ बोलने कि उनकी राजनीतिक आदत का हिस्सा है ।इसलिए हम इस शरारत पूर्ण बयान की भर्त्सना करते हैं। यदि आम आदमी पार्टी में जरा भी नैतिकता है तो उसे अपने बयान को वापस लेना चाहिए और मां गंगा तथा प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here