आपको बता दे कि
रुद्रपुर में 16 महीनों से लापता परिवार के चार लोगों के शव उनके घर में दबे मिले।
ओर इस सनसनीखेज घटना से हर कोई सन्न है।
जी हा उत्तराखंड के रुद्रपुर में तेरह बीघा जमीन और मकान हड़पने की नीयत से दामाद ने किराएदार साथी की मदद से सास-ससुर और दो सालियों की बेरहमी से हत्या कर दी थी ,


ओर शवों को घर में ही गड्ढा खोदकर दफनाने के बाद नया फर्श डाल दिया। लगभग
16 महीने बाद जब दामाद ने संपत्ति अपने नाम करने की मंशा से मृत्यु प्रमाणपत्र बनाने की कोशिश की तो रिश्तेदार के शक करने पर पूरा मामला खुल गया।
जब पुलिस ने घर के भीतर फर्श की खुदाई कर आरोपी दामाद नरेंद्र गंगवार के ससुर हीरालाल, सास हेमवती, उनकी बेटी दुर्गा और पार्वती के शव बरामद कर लिए थे
बता दे कि पुलिस ने नरेंद्र को हिरासत में लेकर उसकी निशानदेही पर कमरे के अंदर खुदाई कराई। वहीं, शिकायतकर्ता दुर्गा प्रसाद पुलिस को जानकारी देता रहा। इसी बीच पहुंची लीलावती ने दुर्गा प्रसाद का गिरेबान पकड़कर उसे बाद में देख लेने की धमकी तक दे डाली थी


ख़बर है की इस पूरी घटना का खुलासा मृतक के रिश्ते के नाती दुर्गा प्रसाद ने ही किया। उसने पुलिस को पूरी घटना की जानकारी दी ओर पड़ताल करने पर चार हत्याओं के सनसनीखेज मामले से पर्दा उठा
वही कमरे में शव गाड़ने की जानकारी जैसे ही लोगों को हुई तो बारिश के बीच सड़क से लेकर घरों की छतों तक लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। दोपहर बाद तीन बजे से लेकर देर शाम सात बजे तक लोग शवों को देखने के लिए खड़े रहे। लोगों को सड़क से अलग करने के लिए पुलिस कर्मियों ने कई बार खदेड़ा। लोगों की जुबां पर एक ही सवाल था कि चार लोगों को कैसे मारकर जमीन पर गाड़ दिया होगा


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here