ख़ास ख़बर

दिल्ली से उत्तराखंड आने-जाने वालों पर विशेष नजर

 

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अधिकारियों को टेस्टिंग और सर्विलांस बढ़ाने के निर्देश दे रखे है

 

सभी जानते है कि
दिल्ली में कोरोना फिर से उफान पर है ऐसे में त्रिवेंद्र सरकार ने वहां से उत्तराखंड आने वालों और यहां से दिल्ली जाने वालों की निगरानी बढ़ाने का फैसला किया है।जी हा यूपी की सीमा पर जहां से भी लोग दिल्ली से राज्य में प्रवेश कर सकते हैं, वहां सरकार सर्विलांस बढ़ा दी है
ओर राज्य की सीमाओं पर एंटीजन टेस्टिंग भी शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अधिकारियों को टेस्टिंग और सर्विलांस बढ़ाने के निर्देश पहले ही दे दिए हैं।
सभी जिलाधिकारियों को केंद्रीय गृह मंत्रालय और राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुरूप पूरी तैयारी करने को कहा गया है। दिल्ली बॉर्डर पर खास एहतियात बरती जा रही है। 
उधर, शनिवार को राज्य में कोरोनाकाल के 36 हफ्ते पूरे हो गए। राज्य में कोरोना ने 15 मार्च को दस्तक दी थी। 21 मार्च तक कोरोना के तीन मामले सामने आए थे। 36वां हफ्ता पूरा होने पर जो तुलनात्मक तस्वीर सामने आई है, उसके अनुसार इस हफ्ते पिछले चार हफ्तों की तुलना में संक्रमण दर बढ़ गई है। 33वें हफ्ते में संक्रमण दर 2.85 थी, जो बढ़कर 4.34 हो गई है। इस सप्ताह 2788 कोरोना संक्रमण के मामले आए, जिनमें से 2955 ठीक भी हो गए। थोड़ी राहत की बात यह है कि पिछले चार हफ्तों से कोरोना मरीजों की मौत का औसत 40 के आसपास है

इस समय सरकार
1. प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग बढ़ा रही है
2. जनजागरण फिर नए सिरे से आरम्भ की आवश्यकता।
3. लहर आने की आशंका के चलते उसके लिए पूरी तैयारी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा की जिस तरह
दिल्ली में कोरोना फिर तेजी से बढ़
रहा है
तो उसका असर उत्तराखंड पर भी पढ़ सकता है इसलिए
मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से खास सावधानी बरतने की अपील की। खासतौर पर उन्होंने दिल्ली से उत्तराखंड आने वाले और उत्तराखंड से दिल्ली जाने वाले लोगों को विशेष सावधानी बरतने को कहा है।
क्योकि दिल्ली से कोरोना संक्रमण के जिस तरह से आंकड़े सामने आ रहे हैं, वह बहुत चौंकाने वाले हैं। मुख्यमंत्री की यह चिंता शनिवार को कोरोना संक्रमितों की संख्या में भी दिखी है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here