मल्टी स्टेट कोऑपरेटिव सोसाइटी का राज्य में नाजायज धंधा

अब राजधानी देहरादून में बैंकिंग कोऑपरेटिव सोसाइटी के सदस्य झांसे में फंसकर आप लेनदेन कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए जी हां… भारतीय रिजर्व बैंक ने जानकारी दी है कि उत्तराखण्ड में अवैध रूप से एक दर्जन के करीब मल्टीस्टेट कोऑपरेटिव सोसाइटी अपना नाजायज धंधा चला रही है… क्योंकि इन्हें अपने सामान्य सदस्यों से धन जमा करने और बिना आरबीआई की अनुमति के  बैंकिंग गतिविधि संचालित करने की मान्यता नहीं है …

छानबीन करने पर पते भी गलत पाए गए हैं … खबर मिली है कि अब इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी … और जिन राज्यों में इनके मुख्यालय हैं वहां से गिरफ्तार किया जाएगा … साथ ही सेंट्रल रजिस्ट्रार सोसाइटी को इनका पंजीकरण करने के लिए लिखा जाएगा … इस बात का खुलासा राज्य के मुख्य सचिव उत्पल कुमार के सामने हुआ जब मुख्य सचिव बैंकिंग गतिविधयों पर नजर रखने के लिए बैंकिंग सेवाओं से जुड़े अधिकारियों की मीटिंग ले रहे थे..

Leave a Reply