मोदी नाम को भी नही छोड़ा ,माग ली ! “1 करोड़ की रंगदारी पत्रकार अनुज अग्रवाल पर फिर एक ओर मुकदमा दर्ज! 

778

मोदी नाम को भी नही छोड़ा ,माग ली ! “1 करोड़ की रंगदारी पत्रकार अनुज अग्रवाल पर मुकदमा दर्ज

ये ख़बर  अन्य समाचार पत्रों ने मुरादनगर से प्रमुखता से छापी है।

ख़बर है कि मोदी स्टील फैक्ट्री के महाप्रबंधक से एक करोड़ रुपये की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है!


बता दे कि अनेक समाचार पत्रों के अनुसार मोदी स्टील फैक्ट्री के महाप्रबंधक से एक करोड़ रुपये की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। वही रंगदारी न देने पर फैक्ट्री से निकाली जा रही स्क्रैप की क्लिप यूट्यूब चैनल पर वायरल कर बदनाम करने की धमकी दी जा रही है। साथ ही उन्हें और परिवार को जाने से मारने की भी धमकी दी जा रही है। जानकरी अनुसार पुलिस ने एक यूट्यूब चैनल के पत्रकार समेत 7 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच भी शुरू कर दी है।

वही पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए तीन टीमों का गठन किया है। वही ये भी बताया जा रहा है कि इन्होंने रंगदारी लेने के लिए एक माह के अंदर गाजियाबाद व मुरादनगर के कई होटलों में मीटिंग भी की।


वही नई दिल्ली के द्वाराका सेक्टर-11 निवासी अंबर जेटली मोदी स्टील फैक्ट्री में महाप्रबंधक हैं। पुलिस को दी शिकायत में उन्होंने बताया है कि 15 अप्रैल को उनके मोबाइल पर एक फोन आया। फोन करने वाले शख्स ने कहा कि नियमों को ताक पर रखकर उनकी फैक्टरी से अवैध रूप से स्क्रैप निकाला जा रहा है। इसकी विडियो क्लिप उसके पास है। जेटली के अनुसार फोन करने वाले ने उन्हें विडियो वट्सऐप किया और खुद को तहलका इंडिया न्यूज यूट्यूब चैनल का पत्रकार बताया।


बता दे कि
जेटली ने बताया कि आरोपित!, ने उनसे उनकी ई-मेल आईडी ली और कहा कि आगे की मीटिंग की जानकारी उन्हें मेल पर दी जाएगी। 20 अप्रैल को उन्हें दिल्ली के एक होटल में बुलाया गया। यहां आरोपित के अलावा 6 अन्य लोग भी थे, लेकिन उस दिन बात नहीं हो पाई।

इसके बाद 26 अप्रैल को उन्हें मुरादनगर के कृष्णा सागर होटल बुलाया गया। यहां उनसे एक करोड़ रुपये की मांग की गई। उन्हें धमकी दी कि अगर जल्द रुपये नहीं दिए तो विडियो यूट्यूब पर वायरल कर मोदी ग्रुप को बदनाम कर दिया जाएगा। उनसे 6 ब्लैंक चेक भी ले लिए।


वही थाने में दी गई शिकायत में जेटली ने बताया है कि आरोपित उनके पल-पल की खबर रखते थी। रुपये नहीं देने पर आरोपित उन्हें और परिवार को जान से मारने की भी धमकी दे रहे थे। जेटली का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निदेश के अनुसार ही नियमानुसार ही फैक्ट्री से स्क्रैप निकाला जा रहा है।

बता दें कि मोदी स्ट्रील फैक्ट्री काफी समय से बंद पड़ी है। फैक्टरी मालिक व मजदूरों के बीच बकाया भुगतान को लेकर कोर्ट में मामला चल रहा है। फैक्टरी में करोड़ों रुपये का स्क्रैप पड़ा हुआ है। समय-समय पर प्रबंधकों पर जबरन स्क्रैप निकालने का आरोप लगते रहते हैं।
पत्रकार अनुज अग्रवाल, विशाल गिरिधर, अतुल नेहरा, निर्मला नेहरा, बिट्टू गदाना, मानविंदर नेहरा व एक अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। पुलिस की तीन टीमें इनकी तलाश कर रहीं हैं। ये बयान उमेश बहादुर सिंह, थाना प्रभारी का समान आया है।


बहराल इस ख़बर का पार्ट 2 जल्द ही आपके सामने बोलता उत्तराखंड लेकर आएगा ।


क्योकि बात ये है कि पत्रकार अनुज अग्रवाल पर उत्तराखंड में भी ताज़ा मुकदमा अभी 50 लाख  की  ब्लैक मेलिंग का  दर्ज  हुवा है इसलिए ।पूरी रिपोर्ट जल्द आपके सामने होगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here