पहाड़ पुत्री माता मंगला जी ओर पहाड़ पुत्र भोले महाराज जी को धन्यवाद बोलो उत्तराखंड सरकार , जाने क्यों ।

बद्रीनाथ में बना पहला वेंटिलेटर सुविधाओं से लैस अस्पताल
_________________________
राज्यपाल बेबी रानी मौर्य एवं समाजसेवी पहाड़ पुत्री माताश्री मंगला जी ने किया उद्धाटन
________________________


जैसा कि आपको मालूम ही है कि विश्व सेवा पटल पर स्वास्थ्य-शिक्षा के क्षेत्र में अलख जगाने के लिए कई महत्वपूर्ण योजनाओं पर काम कर रहे हंस फाउंडेशन ने भगवान बद्रीनाथ धाम आने वाले असंख्य श्रद्धालुओं के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए। वेंटिलेटर आईसीयू अॉपरेशन थियेटर और कई ऐसी स्वास्थ्य सुविधाओं से लैस अस्पताल का निर्माण मै अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई ।


अब हर हालत में मरीजों को किसी भी स्थिति में तुरंत इलाज मिल सकेंगा। भगवान बद्रीनाथ धाम के कपाट जिस दिन खुले थे उसी दिन इस अस्पताल का उद्घाटन उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य एवं हंस फाउंडेशन की प्रेरणास्रोत पहाड़ पुत्री माताश्री मंगला जी ने किया।

वही आपको बता दे कि स्वामी विवेकानंद चेयरी टेबल ट्रस्ट ने भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है । बता दे कि हंस फाउंडेशन के तत्वावधान में बद्रीनाथ में स्थापित पचास बेड वाला यह पहला अस्पताल है…जो हर आधुनिक सुविधाओं से लैस है। इस अस्पताल का उद्धघाटन करते हुए राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा था कि श्री बद्रीर धाम में स्वामी विवेकानंद चेयरी टेबल ट्रस्ट ओर माताश्री मंगला जी एवं श्री भोले जी महाराज के बहुत महत्वपूर्ण सहयोग से इस मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल का निर्माण हो रहा है.. ओर इसके बन जाने से बद्रीनाथ में हृदय रोग और अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों के लिए काफी सुविधाएं हो गई है.. आपको बता दे कि .इससे पहले यहां एक सरकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ही था और स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए इस स्तर की स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं थी। जिसके चलते कई बार यहां आएं श्रद्धालुओं को अचानक हुई बिमारी में देहरादून या ऋषिकेश जाना पड़ता था। लेकिन अब इस अस्पताल में ही श्रद्धालुओं को हर सुविधा बद्रीनाथ धाम के पास मै ही मिल जाएंगी। इसके लिए मैं स्वामी विवेकानंद चेयरी टेबल ट्रस्ट एवं हंस फाउंडेशन को बधाई देती हूँ कि उन्होंने बद्रीनाथ आने वाले श्रद्धालुओं के लिए इस अस्पताल का निर्माण करवाया है।


इस मौके पर माताश्री मंगला जी ने कहा कि हम बाबा बद्री विशाल जी को प्रणाम करते…कि उन्होंने इस भूमि पर हमें सेवा करने का अवसर प्रदान किया…हम स्वास्थ्य-शिक्षा के क्षेत्र में जो भी कार्य कर रहे है…उसमें निश्चित तौर पर हमारे देवों का बहुत आशीर्वाद हमारे साथ है..आज बद्री विशाल की धरती पर इस मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल के बनने से लोगों को स्वास्थ की बेहतर से बेहतर सुविधा मिलेगी और बद्रीनाथ में धार्मिक दृष्टि से आने वाले लोगों के लिए यह अस्पताल वरदान सिद्ध होगा। माता मंगला जी ने कहा कि हम बद्री विशाल जी की धरती के लिए जो भी सेवा दे पाएं। इसके लिए हम खुद को सौभाग्यशाली समझेंगे। हमें जब भी मौका मिलेगा। हम जरूर अपनी अन्य सेवाओं को भी इस क्षेत्र में देना चाहेंगे।


चिकित्सालय के उद्घाटन के अवसर पर प्रसिद्व कथावाचक विजय कौशल जी महाराज, डा0 कृष्ण गोपाल, डा0 संजीव वर्मा,डाक्टर अभिनव असवाल, क्षेत्रीय विधायक महेन्द्र भट्ट, बीकेटीसी के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल, बद्रीनाथ धाम के धर्माधिकारी भुवन चन्द्र उनियाल सहित कई राज्यों से आये चिकित्सक, गणमान्य नागरिक, क्षेत्रीय जनता मौजूद थी।
बहराल पहाड़ पुत्री माता मंगलाजी व पहाड़ पुत्र भोले जी महाराज जी को पूरा उत्तराखंड हाथ जोड़कर धन्यवाद कहता है कि माता जी आपने हम पहाड़ियों के लिए सोचा ये बडी बात है।वरना आज तक ओर अभी तक तो समय समय की सरकारे  सिर्फ अपने फायदे के लिए हमसे बात करती आई है।

पर आपको ना तो हमारे वोट से सरोकार है और ना राजनीति से । हमारी असली गरीबो की तो आप ही है सरकार।





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here