सुनो उत्तराखंड आपके पहाड़ के बैंक को लूटने का सपना देखने वाला ये राठी 60 बीघा जमीन और वेडिंग प्वाइंट का है मालिक है पुलिस ने किया गिरफ्तार

727

 


आपको बता दे कि उत्तराखंड कोटद्वार कोतवाली पुलिस ने पिछले दिनों 15 व 16 सितंबर की रात जिला सहकारी बैंक की मुख्य शाखा में सेंधमारी कर स्ट्रांग रूम तोड़कर चोरी करने के प्रयास किया था अब पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया है।
इसके साथ ही इस पूरे मामले में पुलिस ने यूपी के बिजनौर जिले के मंडावली निवासी एक अमीरजादे युवक को बैंक से चुराई गई दो बंदूकों और घटना में प्रयुक्त बाइक के साथ गिरफ्तार भी कर लिया है। आपको बता दें कि युवक ने बैंक के 20 लाख रुपये का कर्ज चुकाने के लिए हॉलीवुड फिल्म स्टाइल में चोरी का प्रयास किया था। ओर चोरी का आइडिया भी उसे हॉलीवुड की एक एक्शन मूवी से मिला।
बैंक में स्ट्रांग रूम तोड़कर चोरी करने के प्रयास और बंदूक चोरी के मामले का खुलासा करने के लिए खुद एसएसपी पौड़ी दिलीप सिंह कुंवर कोटद्वार पहुंचे। उन्होंने बताया कि पिछले दिनो 15व 16 सितंबर की रात को बदरीनाथ मार्ग स्थित जिला सहकारी बैंक में विंडो एसी तोड़कर बैंक के अंदर घुसकर स्ट्रांग रूम तोड़ने के प्रयास और बैंक की दो बंदूकों के चोरी के आरोप में यूपी के बिजनौर जिले के ग्राम सफियाबाद मंडावली निवासी विकुल राठी जिसकी उम्र लगभग 31 साल है जो पुत्र नरेंद्र सिंह का है उसे जाफराबाद के पास से गिरफ्तार किया गया। उसकी निशानदेही पर चोरी की दोनों बंदूकों और दीवार काटने के अन्य औजारों को भी बरामद कर लिया गया है।
एसएसपी ने कहा कि विकुल राठी ने पूछताछ में एक माह पहले यू-ट्यूब पर हॉलीवुड की एक्शन मूवी देखने की बात बताई। इसमें एक खलनायक द्वारा अकेले ही बैंक की दीवार काटकर पैसा लूटने का सीन था। मूवी देखकर उसने उसी तर्ज पर बैंक में चोरी करने का प्लान भी बना डाला यही नही उसने इस घटना को अंजाम देने के लिए उसने सबसे पहले 11 सितंबर को कोटद्वार पहुंचकर जिला सहकारी बैंक की रेकी की। उस दिन वह बैंक के अंदर गया था, उसने स्ट्रांग रूम, वहां लगे सीसीटीवी कैमरे और बिजली के स्वीच देखे।
ओर इसके बाद उसने शौच करने के बहाने बैंक के पीछे विंडो एसी की रेकी की। फिर 15 सितंबर की रात लगभग साढ़े 11 बजे वह अकेले मोटरसाइकिल में सवार होकर बैंक के पास आया और विंडो एसी को तोड़कर उस रास्ते बैंक के अंदर घुस गया। ओर उसने टार्च की रोशनी में सीसीटीवी के तार डीवीआर से काट दिए। फिर इसके बाद कटर की मदद से स्ट्रांग रूम की दीवार काटने का प्रयास शुरू कर दिया। दीवार अधिक मोटी होने के कारण वह उसे काट नहीं पाया और बुरी तरह से थक गया। सुबह होने के कारण वह सभी उपकरणों को वहीं छोड़ते हुए वहां रखी बैंक की दो बंदूकों और कुछ पासबुक लेकर बैंक से बाहर निकल गया।
ओर फिर उसने बाइक पर बंदूक बांधी और कौड़िया के रास्ते से कोटद्वार से निकल गया। ओर जाफराबाद के पास जंगल में उसने दोनों बंदूकों को फेंक दिया और घर चला गया। दूसरे दिन वह फिर से जंगल में आया और वहां से एक बंदूक उठाकर घर ले गया।
ख़बर है कि मंगलवार को जाफराबाद के पास जंगल से दूसरी बंदूक को घर ले जाते समय कोटद्वार पुलिस ने उसे बाइक की चेकिंग के दौरान गिरफ्तार कर लिया। पुलिस टीम को एसएसपी की ओर से ढाई हजार रुपये और पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल क्षेत्र की ओर से पांच हजार रुपये के इनाम की घोषणा की गई है।
एसएसपी पौड़ी डीएस कुंवर ने बताया कि आरोपी विकुल राठी के पिता की मंडावली में 60 बीघा जमीन है। उनका वहां पर श्याम कान्हा वेडिंग प्वाइंट रेस्टोरेंट भी है। उसने एचडीएफसी बैंक से 20 लाख रुपये का कर्जा ले रखा है। बैंक से कर्जा चुकाने का तकाजा होने पर उसने फिल्मी स्टाइल में बैंक से पैसे उड़ाने का प्लान बनाया था।
वही अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय ने बताया कि आरोपी ने यू-ट्यूब पर दीवार काटने का तरीका सीखा और पहली बार 10 अगस्त को और फिर पांच सितंबर को मंडावली थाना के अंतर्गत जिला सहकारी बैंक में चोरी का असफल प्रयास कर चुका है। वहां भी वह बैंक की दीवार काटकर बैंक के अंदर घुसा था, लेकिन स्ट्रांग रूम की दीवार काटने में असफल रह गया।बहराल कुल मिलाकर अब आप समझ गए ना कि बाइक या गाड़िये की चेकिंग क्यो आवश्यक है ये चैंकिग ना हो तो मुजरिम हाथ ही ना आये ।
ओर आप क्यो डरते हो नियमो का पालन होगा तो ना चालान कटेगा ओर सडक़ हादसों पर भी लगाम लगेगी।

फैला दो ख़बर सही लगे हमारी बात तो ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here