उत्तराखंड में अभी तक कोरोना का एक और मामला आज सामने आया है। हाल ही में महाराष्ट्र से ऋषिकेश लौटा युवक कोरोना संक्रमित पाया गया है। इसके साथ ही अब प्रदेश में मरीजों की संख्या 92 हो गई है। व 52 ठीक हो गए 

वहीं, कोटद्वार के रिखणीखाल विकासखंड के एक गांव में दिल्ली से आई एक महिला की क्वारंटीन के दौरान मौत हो गई।

जनपद          संक्रमित     ठीक हुए मरीज
देहरादून          45           28
हरिद्वार            07             07
नैनीताल          14            10
ऊधमसिंह नगर   18           05
उत्तरकाशी           01          –
अल्मोड़ा              02          01
पौड़ी                  02           01

वही उत्तराखंड में रेड जोन में शामिल हरिद्वार जिले में कोरोना संक्रमित सभी मरीज ठीक हो गए हैं। मेला अस्पताल से सातवें मरीज को भी ठीक होने के बाद घर भेज दिया गया है। वर्तमान में अब जिले में कोई भी एक्टिव केस नहीं है।
अब एक हजार सैंपल प्रतिदिन होने पर शुरू होगी पूल सैंपलिंग
बाहरी राज्यों से उत्तराखंड लौट रहे प्रवासियों में कोरोना संक्रमण मिलने से स्वास्थ्य विभाग ने सैंपलिंग बढ़ा दी है। शनिवार को पहली बार एक दिन में जांच के लिए 549 सैंपल भेजे गए हैं। वहीं प्रतिदिन सैंपलों की संख्या एक हजार पहुंचने के बाद पूल सैंपलिंग की जाएगी। अभी तक प्रदेश के चारों सरकारी लैब में व्यक्तिगत सैंपल की जांच की जा रही है।
बता दे कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण का पहला मामला 15 मार्च को मिला था। शुरूआत में प्रदेश में लैब की सुविधा न होने के कारण एक सप्ताह में पूरे प्रदेश से मात्र 110 सैंपल की जांच हुई थी। वर्तमान में प्रदेश में एम्स ऋषिकेश के अलावा तीन मेडिकल कॉलेज दून हल्द्वानी और श्रीनगर में कोरोना सैंपल जांच की सुविधा है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here