खच्चर चलाने वाले ने किया पाहड़ पुत्री के साथ दुष्कर्म ओर फिर हत्या

पूरा उत्तराखंड गुस्से की आग मे जल रहा है उत्तरकाशी जिले में नाबालिग की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी पुलिस ने मामले में शक के आधार पर बिहार मूल के पांच मजदूरों के अलावा कुछ स्थानीय लोगों को हिरासत में लिया था, लेकिन अब मृतका की बहन के बयान के इस केश में नया मोड़ दे दिया था  
पुलिस ने इस आधार पर खच्चर चलाने वाले एक युवक को गिरफ्तार किया है, सोमवार को पत्रकारों के सामने मृतका की 17 वर्षीय बड़ी बहन ने बताया कि खच्चर चलाने और मजदूरी करने वाला एक युवक लंबे समय से उसे परेशान कर रहा था। घटना वाले दिन युवक ने उसे फोन करके रात को उठा ले जाने और साथ नहीं चलने पर उसकी गर्दन उड़ा देने की धमकी दी थी।

उसने आगे बताया कि धमकी भरे फोन के बाद वह अपने ननिहाल चली गई, लेकिन अगले ही दिन पता चला कि उसकी छोटी बहन की बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई है। पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए युवक को पास के गांव से गिरफ्तार कर लिया है। सोमवार को आईजी संजय गुंज्याल के नेतृत्व में पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था  

. पूछताछ में आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. पुलिस और एसआईटी की टीम भी घटना के बाद से मामले की छानबीन में जुटी थी. इस मामले में पीड़िता की बहन के बयान के आधार पर पुलिस मुख्य आरोपी तक पहुंची जो गांव में ही खच्चर चलाने का काम करता है.
बताया जा रहा है कि आरोपी द्वारा पीड़िता की बहन को धमकाया जाता था और उसने उठा ले जाने की धमकी भी दी थी. आरोपी ने तैश में आकर उसकी छोटी बहन को अपनी हवस का शिकार बनाया और उसे जान से मार दिया. वहीं, इस मामले में पुलिस ने कुछ स्थानीय लोगों को भी हिरासत में लिया था 

ख़बर है कि युवक के पास से पुलिस ने खून के धब्‍बे वाले कपड़े, जूते भी कब्जे में ले लिए हैं। जो अन्य लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया था, उन्हें छोड़ दिया है। पुलिस के अनुसार खच्चर चलाने वाले बंटी लाल निवासी दीन गांव लंबगांव टिहरी गढ़वाल ने जुर्म को कबूल लिया है।  आरोपित ने मृतका की बड़ी बहन को उठाने के लिए चेतावनी दी थी। जिस कारण बड़ी बहन घटना की रात को अपने मामा के घर चली गई थी। उत्तराखंड़ के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत सोमबार को ही कह चुके थे कि जल्द पुलिस हत्यारे को गिरफ्तार कर लेगी ओर हुवा भी वही बहराल अब हत्यारे का  नाम सामने आने के बाद पूरा पहाड़ उसको फाँसी देने की माग करने लगा है 

क्या था पूरा मामला?बीती 18 अगस्त को उत्तरकाशी के राजस्व क्षेत्र ग्राम भकड़ा हिटाणु की सीमा में पुल पर एक बच्ची का शव मिलने की सूचना मिली थी. बच्ची के परिजनों की तहरीर पर धारा 302, 376, 363 पोक्सो एक्ट के तहत अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया था. मामले की जांच विशेष जांच टीम गठित की गई। जांच के दौरान पता चला कि खच्चर चलाने का काम करने वाले मुकेश उर्फ बंटी पुत्र पवन निवासी दीन गांव थाना लंबगांव टिहरी, का मृतका के घर आना-जाना था और एक-दो बार वो नशे की हालत में देर रात मृतका के घर गया था. इसी आधार पर तफ्तीश शुरू की गई.

दो दिन बाद 20 अगस्त को पुलिस ने देवीधार डुंडा से आरोपी को पकड़कर उससे पूछताछ की, जिसमें उसने स्वीकारा कि वो मृतका को जानता था और मृतका और उसकी बड़ी बहन से बात करने का बहाना ढूंढता था. कुछ दिन पहलो वो शराब पीकर मृतका के घर गया और बातचीत की कोशिश की लेकिन उनकी मां जाग गई और उसे भगा दिया.

इसके बाद 17 अगस्त की रात वो शराब पीकर मृतका के घर गया और उसे घर से सोते हुये उठाकर ले गया. आरोपी ने दुष्कर्म और हत्या का जुर्म स्वीकार कर लिया है.

मासूम की हत्या और दुष्कर्म का आरोपी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here