उत्तराखंड : गुप्ता बंधुओं की करोड़ों की शादी से भी ख़ास है यह शादी इस विवाह समारोह में तो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र जी जाना है जरुरी!

300

उत्तराखंड : गुप्ता बंधुओं की करोड़ों की शादी से भी ख़ास है यह शादी इस विवाह समारोह में तो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र जी जाना है जरुरी

हमारे देश में ना जाने कितने लोग एक समय का खाना खाकर भूखे ही सो जाते हैं और कितने ही लोग ऐसे हैं जिन्हें एक वक्त की रोटी भी नसीब नहीं होती सोचिए क्या गुजरती होगी उस परिवार पर जो सुबह से शाम तक जी तोड़ मेहनत कर कमाता है और कमाने के बाद भी भरपूर अपने परिवार का पेट नहीं भर पाता है सोचिए क्या गुजरती होगी उस अन्नदाता पर जो हमारे लिए अन्न पैदा करता है लेकिन कभी-कभी उसका परिवार भी भूखा सो जाता है।
सोचिए क्या गुजरती होगी उस प्रकृति पर उन पशु पक्षियों पर जो एक-एक दाने के लिए मोहताज है
और ज्यादा दूर मत जाइए साहब देहरादून को ही देख लीजिए क्या गुजरती है उस बंदर पर जो अपने भोजन खाने का मोहताज है जिसको भरपूर खाना तक नहीं मिल रहा है और आज वह मानव के घरों तक पहुंच कर उनके कपड़े उनके जरूरी सामान को नष्ट कर रहा है यह खाना अनमोल है साहब चाहे आपके लिए हो यह हमारे लिए या हमारे पालतू जानवरों के लिए, यह खाना ही तो है जिस पर हमारी ज़िंदगी निर्भर है।
पूरे देश में लगातार मुहिम चलती रही है कि खाना उतना ही लो थाली मे ताकि भोजन व्यर्थं ना जाये नाली मे ।
इसके साथ ही लगातार करोड़ों रुपए खर्च कर विज्ञापनों के माध्यम से रैलियों के माध्यम से मानव श्रृंखला बनाकर संदेश देने की कोशिश की जा रही है पॉलिथीन मुक्त भारत हो पॉलिथीन मुक्त उत्तराखंड हो पॉलिथीन मुक्त अपना देहरादून हो जरूरी है क्योंकि जब पर्यावरण ठीक रहेगा जब हम पर्यावरण के लिहाज से जागरूक रहेंगे तभी हम बच पाएंगे तभी हमारा कल सुरक्षित होगा और हमारे आज से ही हमारा कल बनता है ।

कुछ इसी प्रकार एक मुहिम चलाई है देहरादून के आशीष नोटियाल ने जिन्होंने अपनी
शादी के कार्ड में पाॅलीथीन हटाओ और भोजन की बर्बादी रोकने का संदेश दिया है।
ख़बर है कि इस ख़ास शादी मे
बारातीं और घराती भी लेंगे प्रतिज्ञा
ओर खूब चर्चा में है शादी का यह कार्ड

पूरे उत्तराखंड मे इन दिनों इस शादी की चर्चा आम है।
ओर शादी का कार्ड भी खूब धूम मचा रहा है। अक्सर लोग शादी कार्ड पर मंत्र लिखवाते हैं या शायरी और शुभ संदेश भी लिखवाते हैं। लेकिन शादी का यह कार्ड जरा अलग हटके है। इस कार्ड में पर्यावरण को बचाने और भोजन की बर्बादी रोकने का संदेश छपा है।
देहरादून के मोहकमपुर निवासी आशीष नौटियाल की शादी के इस कार्ड में अतिथियों को दो संदेश दिये गये हैं। पहला संदेश प्रकृति को लेकर है। इसमें अतिथियों को संदेश दिया गया है कि हिमालय बचाओ, पाॅलीथीन हटाओ। इसमें अपील की गई है कि शादी में आने वाले सभी अतिथि प्रतिज्ञा लें कि हम दैनिक जीवन में प्लास्टिक का उपयोग नहीं करेंगे। इसके अलावा कार्ड में दूसरा संदेश भोजन को लेकर है कि इसे व्यर्थ नहीं जाने देंगे।

पाॅलीथीन हटाओ-हिमालय बचाओ का संदेश

आशीष नौटियाल का कहना है कि उन्हें महसूस हुआ कि लोग शादियों व अन्य मौकों पर प्लास्टिक व पाॅलीथीन का अत्याधिक उपयोग करते हैं। प्लास्टिक व पाॅलीथीन हमारे लिए खतरनाक हैं। इससे हिमालय ही नहीं जीवन भी खतरे में हैं। यदि हमको पर्यावरण का संरक्षण करना है और हिमालय को बचाना है तो प्लास्टिक व पाॅलीथीन का उपयोग बंद करना होगा। शादी के कार्ड में वह यही संदेश देना चाहते है । इसलिए उन्होंने कार्ड में यह प्रतिज्ञा प्रकाषित करवाई है। भले ही यह छोटी सी बात हो लेकिन इसका संदेश दूर तक जा रहा है कि प्लास्टिक का उपयोग रोकने के लिए हम सबकी जिम्मेदारी है।

उतना ही लो थाली में भोजन ब्यर्थ न जाये नाली में

शादी के कार्ड में दूसरा संदेश भोजन को लेकर है कि हम सबको अपने-अपने स्तर से प्रयास करने होंगे कि हम इसे व्यर्थ नहीं जाने देंगे। भोजन को व्यर्थ करना भी कहीं न कहीं उन लोगों के जीवन का उपहास करना है जिन्हें एक वक्त का भोजन भी नसीब नहीं होता है। आशीष नौटियाल ने बताया कि उन्होंने शादी में पांच सौ कार्ड छपवाएं हैं। उनके मुताबिक एक परिवार में 5 से 10 लोग रहते हैं इस तरह उन्होंने कहा कि इस छोटी सी कोशिश से 5 से 5000 लोगों तक यह संदेश जा सकता है। वर आशीष नौटियाल की शादी के कार्ड पर छपे इन संदेशों को लोगों की खूब सराहना मिल रही है।
सूत्र बता रहे है कि इस शादी मैं उत्तराखंड के केबीनेट मंत्री , विपक्ष के नेता, ओर कही आम से लेकर ख़ास मेहमान आ रहे है।
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत जी को भी इस वैवाहिक कार्यक्रम का न्यौता दिया गया है।
जानकार बताते है कि आशीष नोटियाल के बड़े भाई अवदेश नोटियाल उत्तराखंड मैं पिछले 10 सालों से पत्रकार है, ओर आज वे दूरदर्शन मैं अपनी सेवाएं दे रहे है, तो इनके पिता पुलिस से रिटायर्ड अधिकारी है।
इनका पूरा नोटियाल परिवार समाज सेवा में लगातार अग्रसर है।
बोलता उत्तराखंड की तरफ से पूरे नोटियाल परिवार को भाई आशीष को बहुत बहुत बधाई क्योकि आपके द्वारा दिए गए संदेश ने गुप्ता बंधुओं की 400 करोड़ की शादी को भी फेल कर डाला है!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here