देहरादून के दून अस्पताल के एक डॉक्टर को आइसोलेशन वार्ड में किया भर्ती,उत्तराखंड में संक्रमण दूसरी स्टेज में!

आपको बता दे कि कोरोना पॉजिटिव मामले बढ़ने से उत्तराखंड में संक्रमण दूसरी स्टेज में पहुंच गया है। उत्तराखंड में बुधवार को चार और लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। जबकि आज कोई कोरोना पाजिटिव नही आया
जिससे राहत की सांस ली महकमे ने ली ।
कल हरिद्वार में पॉजिटिव मिले दोनों लोग जमात से लौटे थे। हल्द्वानी में एक जमाती और एक उसके संपर्क में आया व्यक्ति संक्रमित है। ओर अब प्रदेश में कोरोना संक्रमित के कुल 35 मामले ही है ।
तो वही आज ख़बर मिली कि दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल के एक डॉक्टर को बुधवार देर रात को आइसोलशन वार्ड में भर्ती कराया गया। भर्ती माइक्रोबायोलॉजिस्ट ने खुद में कोरोना जैसे लक्षण होने की बात कही थी। जिसके बाद उन्हे आइसोलेट किया गया। दून अस्पताल के डिप्टी एमएस डा. एनएस खत्री के अनुसार सीएमओ कार्यालय के एक माइक्रोबायोलॉजिस्ट को भर्ती किया गया है। इन्होंने क्वारंटीन सेंटरों में ठहरे हुए कई जमतातियों के सैंपल लिए थे। उन्हें विशेषज्ञ डाक्टरों की देखरेख में रखा गया है। ओर उनकी तबीयत सामान्य है।
बता दे कि दून अस्पताल में 14 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है। जबकि लगभग 30 अन्य संदिग्ध मरीज भी भर्ती हैं। ऐसे में उन्हें एहतियातन आइसोलेट किया गया है। 

वही हल्द्वानी से ख़बर है कि

बनभूलपुरा और आसपास का इलाका अगले और 72 घण्टो के लिए पूरी तरह सील हो गया है

5 सेक्टरों में बांटा बनभूलपुरा क्षेत्र ,

किसी भी जरूरत के लिए अपने पार्षद को भी कॉल कर सकते हैं ,

पुलिस की निगरानी में पूरा इलाका है

आवागमन पूरी तरह प्रतिबन्धित,

आज रात 12 बजे से घर से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबन्दी ।

एक बार फिर बता दे कि
उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या आज तक 35 ही है आज 40 सैंपल की रिपोर्ट आई है । ओर सभी के नेगिटिव होने से स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन ने भी राहत की सांस ली है। उत्तराखंड के अपर सचिव स्वास्थ्य और नेशनल हेल्थ मिशन के डायरेक्टर युगल किशोर पंत ने मीडिया को बताया कि जिन लोगों को होम क्वॉरेंटाइन किया गया है स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार उन्हें मॉनिटर कर रही है प्रदेश में कुछ मामलों में जमातियों के संपर्क में आए लोगों में भी संक्रमण पाया गया है।
तो वही उत्तराखंड में कोरोनावायरस कोविड-19 के खतरे को कम करने के लिए पुलिस लगातार जमात में भाग लेने गए लोगों को ट्रेस कर रही है हालांकि पुलिस की पकड़ से अभी 13 लोग बाहर हैं लेकिन पुलिस ने लगभग 1200 से ज्यादा लोगों को क्वॉरेंटाइन किया हुआ है। पुलिस का कहना है कि जो लोग सहयोग नहीं कर रहे हैं उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई भी की जा रही है पुलिस ने प्रदेश में अब तक 5 लोगों के खिलाफ आत्म हत्या ! के प्रयास के मामले में चार FIR दर्ज की है।
तो

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया ट्वीट

राज्य में कोविड-19 के कुल 35 केस है- सीएम

28 केस तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं-सीएम

राज्य में केंद्र सरकार की मदद से प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं- सीएम

उत्तराखंड में 837 आइसोलेशन बैड, 1833 संदेहास्पद बैड, 473 आईसीयू, 257 वेंटिलेटर, 8695 पीपीई किट

30375 N-95 मास्क, 5902 वीटीएम किट की सुविधा उपलब्ध है- सीएम

कोविड-19 से निपटने के लिए राज्य के प्राइवेट अस्पतालों में भी सुविधा उपलब्ध है- सीएम

टेक्निशियन संवर्ग में 347 पदों पर नियुक्ति की जा रही है -सीएम

: वही अशोक कुमार, महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड ने बताया कि प्रशासन और पुलिस के सामने प्रस्तुत न होने पर हरिद्वार में 3 लोगों पर हत्या के प्रयास के अन्तर्गत 02 अभियोग पंजीकृत किये गए हैं। अब तक प्रदेश में कुल 05 व्यक्तियों पर के प्रयास के अन्तर्गत 04 अभियोग पंजीकृत किय गए हैं।*
तो कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव हेतु प्रदेश में लागू लॉकडाउन के उल्लघंन करने पर आज दिनांक 09 अप्रैल 2020 को प्रदेश में कुल 69 अभियोग पंजीकृत किये गये, जिसमें 257 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। प्रदेश में अभी तक कुल 1155 अभियोगों 4692 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। इसके साथ ही अभी तक एमवी एक्ट के अन्तर्गत कुल 13768 वाहनों के चालान, 3637 वाहन सीज एवं 64.06 लाख रूपये संयोजन शुल्क वसूला गया।*


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here