लद्दाख में तैनात उत्‍तराखंड का लाल शहीद, परिवार में मचा कोहराम

किच्छा

 लद्दाख में तैनात उत्‍तराखंड के ऊधमि‍सिंह नगर ज‍िले के क‍िच्छा का लाल शहीद हो गया। उसके शहीद होने की जानकारी मिलते ही क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गयी। विधायक राजेश शुक्ला सहित क्षेत्र के गणमान्य नागरिकों ने शहीद के घर पहुँच परिजनों से मुलाकात की। शहीद का शव आज देर रात पहुचने की संभावना है। किच्छा के गौरिकला का लाल देव बहादुर थापा पुत्र शेर बहादुर थापा 2016 में भारतीय सेना में भर्ती हुआ था। उसकी तैनाती लद्दाख में थी जहाँ इन दिनों चीन के साथ तनाव चल रहा है। शनिवार रात्रि बनबसा सेना कैम्प से ग्राम प्रधान पति खुरपिया राकेश यादव को सूचना मिली तो उसने उनके घर जाकर परिजनों को जानकारी दी। 

बता दे कि जवान का बड़ा भाई भी सेना में है और उसकी तैनाती ग्वालियर में है। भाई के शहीद होने की जानकारी मिलने पर वह आज सुबह रविवार , किच्छा पहुंच गया। शहीद का शव देर शाम तक पहुचने की संभावना व्यक्त की जा रही है। उसकी मौत को लेकर कयास लगाए जा रहे है कि गलवान घाटी में हुए संघर्ष में वह भी घायल था, उपचार के दौरान उसकी मौत हुई। हालांकि परिजनों ने अभी इसकी पुष्टि नहीं की है। देव के शहीद होने की जानकारी मिलने पर विधायक राजेश शुक्ला ने शहीद के घर पहुच कर अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए। कहा देव बहादुर की शहादत पर पूरे देश को नाज है। पूरा क्षेत्र शहीद के परिवार के साथ खड़ा है।


उत्तराखंड के उधम सिंह नगर की सबसे बड़ी खबर।

किच्छा के ग्राम गोरी कला निवासी  उत्तराखंड का  जवान हुआ शहीद।

लेह लद्दाख बॉर्डर पर तैनात किच्छा निवासी 24 वर्ष

1 माह 15 दिन की आयु. का जवान हुआ शहीद।

2016 में हुई थी शहीद जवान की भारतीय सेना में भर्ती।

किच्छा मे जवान के शहीद होने की खबर मिलते ही दौड़ी शोक की लहर। 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here