जानिए कहा से आई महगाई ओर कहा से मिली मात्रशक्ति को राहत!पढ़े पूरी ख़बर

296

 

जो कहूंगा सच कहूंगा।(बोलता उत्तराखंड़)

उत्तराखंड़ राज्य मे भले ही मंहगाई लगातार बढ़ रही हो पर कंपनी से लेकर निजी सेक्टरों मे काम करने वालो लोगो का वेतन नही बढ़ रहा है भैया। अब क्या करे जब पेट्रोल के दाम बढेगे तो गाड़ी चलाने वाले हमारे भाई भी तो किराया बढ़ाने की माग करेगे जिनकी माग अब कुबूल है कुबूल है हो गई और बढ़ गया किराया ओर आज से सफर करना हो गया महंगा आपको बता दे कि प्राइवेट बसों, मैक्सी कैब, विक्रम, सिटी बस, टैक्सी, ठेका बस, माल वाहक वाहनों के किराये में 15 प्रतिशत तक बढ़ोतरी हो चुकी है। प्राइवेट वाहन संचालक बीते कई वर्षों से किराये में बढ़ोतरी की मांग कर रहे थे।  वर्ष 2013 के बाद अब किराया बढ़ाया गया है। यह भी तय किया गया है कि अब हर वित्तीय वर्ष में स्थितियों को देखते हुए इनके किराये में बढ़ोतरी या कमी की जाएगी।पिछले दिनों हुई राज्य परिवहन प्राधिकरण एसटीए की बैठक में किराये में बढ़ोतरी का निर्णय लिया गया था। परिवहन सचिव शैलेश बगौली ने मंगलवार को इसे मंजूरी दे दी। मैदानी मार्गों पर साधारण बस सेवा का किराया 75 से बढ़ाकर 86 पैसे प्रति किमी प्रति यात्री कर दिया गया है। वहीं, पर्वतीय मार्गों पर 95 पैसे से बढ़ाकर 1.09 रुपये किया गया है। इसी तरह रिजर्व पार्टी परमिट या शादी या किसी समारोह के लिए बुक होने वाली बसों के तहत मैदानी मार्गों के लिए 85 से बढ़ाकर 98 पैसे तथा पर्वतीय मार्ग के लिए 120 से बढ़ाकर 138 पैसे प्रति किमी प्रति यात्री इजाफा किया गया है।   वहीं, सिटी बसों का न्यूनतम किराया पांच रुपये ही रखा गया है। सिटी बसों का संचालन अब 18 के बजाय 30 किलोमीटर तक किया जा सकेगा। ऐसे में अधिकतम किराया 36 रुपये तय किया गया है। तो हो गयी ना मंहगाई शाहब ये तो कुछ नही है असली मंहगाई यहा है ओर ये चोट सीधे सीधे राज्य की आधी आबादी को पड़ी है यानी मातृशक्ति को जी हा सही पकड़े है   रसोई गैस और महंगी हो गई है। अब घर चलाना थोड़ा और महंगा हो गया है घरेलू गैस सिलिंडर पर 19 और कॉमर्शियल सिलिंडरों पर 30 रु ओर अब गैस के दाम बढ़ने से उपभोक्ताओं की जेब पर और बोझ बढ़ गया है। उत्तरांचल एलपीजी डिस्ट्रीब्यूटर्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष चमनलाल बोलते है कि पहले 770 रुपये में मिलने वाला रसोई गैस सिलेंडर अब 789 रुपये में मिलेगा जबकि कामर्शियल सिलिंडर 19 किलोग्राम के दाम में 30 रुपये की बढ़ोतरी हो चुकी है जी । । कामर्शियल सिलिंडर अब 1400 रुपये में मिल रहा है ये संशोधित मूल्य आज से यानी बुधवार से ही लागू हो गए हैं। ये तो थी मंहगाई की बात लेकिन इस मंहगाई के बीच एक बड़ी राहत आज से मातृशक्ति को किसी ने दी है तो वो है
श्री महंत इंदिरेश अस्पताल जी हा सही सुना है आपने अब आज से श्री महंत अस्पताल मे मातृशक्ति को स्त्री एवंम प्रस्तूति रोग विभाग के अंतर्गत जर्नल वार्ड मे भर्ती होने पर उन्हें 50 प्रतिशत की छूट मिलने लग गई है जिससे काफी राहत उन मात्रशक्ति को मिलेगी जिनके घर की आर्थिक हालात ठीक नही रहते ओर बीमार होने पर अस्पताल चार्ज ज्यादा होने के नाम से अस्पताल मे ऐडमिट ही नही होते उन मात्रशक्ति को यहा पर राहत मिली है बोलता उत्तराखंड़ से बात करते समय कही महिलाओं ने अपने दिल की बात करते हुऐ कहा कि अब देखो ना मोदी जी ने कहा था कि अच्छे दिन आयेगे पर यहा तो हम महिलाओं के लिए घर चलाना रोज़ भारी पड़ रहा है अब किराया तो बड़ा ही है गैस के दाम भी बढ़ गए है भैया जी । हा हमने सुना है कि महंत अस्पताल मे हम महिलाओ के रोग विभाग मे भर्ती होने पर हमको जरनल वार्ड मे 50 %की छूट मिलेगी ये राहत भरी खबर है। बहराल बोलता है उत्तराखंड़ कि इस महगाई से खास कर माध्यम वर्ग त्रस्त है और आम आदमी बेहाल है ओर समय के साथ साथ ये महगाई ओर बढ़ेगी फिर नेता जी चाहे कितने भी वादे ओर दावे महगाई को कम करने के कह दे पर होगा कुछ नही ।  फिलहाल बोलता उत्तराखंड़ श्री महंत देवेन्द्र दास जी महाराज जी को धन्यवाद कहता है कि उन्होंने अपने श्री महंत अस्पताल प्रशासन को मात्रशक्ति रोग विभाग के जरनल वार्ड मे भर्ती होने पर 50%की छूट दे दी जिससे हर जरूरतमंद मात्रशक्ति को राहत मिलेगी  ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here