आपको बता दे कि
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती राज्य के पर्यटन मंत्री के परिवार के सदस्यों का इलाज जारी है
लेकिन देर स्याम एक गलत जानकारी उड़ाई गई
की उनके परिवार के 5 सदस्यों को डिस्चार्ज कर दिया गया है
ओर उन्हें होम कोरंटाइन में रहने की सलाह दी गई है। जो कि गलत है

सतपाल महाराज के पूरे परिवार से जुड़े युवा भाजपा नेता पंकज भट्ट ने बोलता उत्तराखंड को बताया कि  महाराज जी का पूरा परिवार  अस्प्ताल  मैं ही  है ओर  वे केंद्र   सरकार व राज्य सरकार की गाइडलाइन का पालन करेंगे जब तक राज्य सरकार या फिर केंद्र सरकार से कोई आदेश नहीं आता  वे  अस्पताल में रहेंगे
ओर अभी सतपाल महाराज का पूरा परिवार एम्स मैं ही इलाज़ करा रहा है

 

एम्स संस्थान की ओर से  आज सोमवार को जारी हेल्थ बुलेटिन में संकायाध्यक्ष (अस्पताल प्रशासन) प्रो. यूबी मिश्रा ने बताया कि बीते रविवार को सूबे के काबीना मंंत्री, उनकी पत्नी समेत सात पारिवारिक सदस्यों को कोविड संक्रमित पाए जाने पर एम्स ऋषिकेश में भर्ती किया गया था। जहां सभी सदस्यों की विस्तृत जांच की गई। उन्होंने  बताया कि यह सभी सदस्य ए-​सिम्टमैटिक हैं,लिहाजा ऐसे पेशेंट जिनमें कोविड के लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइड लाइन के तहत होम कोरंटाइन में रखा जा सकता है। 

 

अस्पताल से घर लौटे सतपाल महाराज व उनका परिवारपूर्व मंत्री अमृता रावत जी अभी अस्पताल मैं ही है

Posted by बोलता उत्तराखंड़ on Monday, June 1, 2020


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here