पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत अपने फेसबुक पेज पर लिखते है कि

टिहरी झील और फिल्म से जुड़े मेरे पर्यटन-प्रयास ने लिया आकार मैंने जब 2014 में राज्य की कमान संभाली तो कुछ मुख्य बातों पर मेरा फोकस था। फ़िल्म_शूटिंग, उनमें से एक थी, क्योंकि शूटिंग ने सिर्फ होटल, ट्रैवल, लोकल कलाकारों को आंशिक रोजगार मिलता है, बल्कि इसके बड़े पर्दे पर दिखने से राज्य को पर्यटन के क्षेत्र में दूरगामी फायदे मिलते हैं। सामाजिक कार्यकर्ता और बॉलीवुड से जुड़े हमारे युवा अभिनव थापर ने तिग्मांशू_धुलिया जी द्वारा निर्देशित ” यारा” फ़िल्म और उसके बाद ” रागदेश” को उत्तराखंड लाने में बड़ा सहयोग किया। ” रागदेश” का तो मैंने उत्तराखंड में आयोजित फ़िल्म प्रीमियर भी देखा। मैंने, फ़िल्म बोर्ड बनाया जिससे शूटिंग के लिये “सिंगल-विण्डो” व्यवस्था बने,

इस कार्य को वर्तमान मुख्यमंत्री, त्रिवेंद्र_सिंह_रावत जी ने भी आगे बढ़ाया, इस महान कार्य के लिये उनको भी साधुवाद देता हूं। “यारा” फ़िल्म टिहरी झील में जून 2014 में शूट होने वाली संभवतः पहली फ़िल्म थी जो अब 30 जुलाई को रिलीज होगी इसके लिये तिग्मांशू धूलिया जी सहित उनकी पूरी टीम को बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

 

शूटिंग बढ़ेगी, तो रोजगार व पर्यटन बढ़ेगा,
रोजगार-पर्यटन बढ़ेंगे, तो उत्तराखंड बढ़ेगा”।

आपको बता दे कि
उत्तराखंड केवल देवभूमि ही नहीं बल्कि प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर नदियों और पर्वतों की भूमि भी है टिहरी शहर भागीरथी एवं भिलंगना नदियों के संगम (गणेश प्रयाग) पर बसा एक छोटा सा शहर था | विश्व के बड़े बांधों में शामिल टिहरी बाँध के निर्माण के फलस्वरूप टिहरी शहर पानी में डूब गया तथा टिहरी झील जिसे आज सुमन सागर के नाम से जाना जाता है, का निर्माण हुआ

टिहरी शहर को विस्थापित करके नई टिहरी शहर में बसाया गया है
टिहरी बांध निर्माण योजना में राज्य सरकार (उत्तराखंड) ने टिहरी झील को एक साहसिक पर्यटन में परिवर्तित करने का निर्णय लिया है। टिहरी झील में जेट स्कीइंग से हॉट एयर बैलून सवारी तक कई अलग-अलग और विविध गतिविधियां शामिल हैं।


साहसिक खेल के नाम पर राज्य के लोगों के पास सीमित विकल्प थे और लोग साहसिक गतिविधियों एवं रोमांच के लिए पर्यटन स्थलों की खोज में रहते थे किन्तु बदलते समय एवं भारत में साहसिक खेलों के उदय के साथ, उत्तराखंड सरकार ने प्रसिद्ध टिहरी झील को एक प्रमुख साहसिक पर्यटन स्थल में बदल दिया है
टिहरी झील में साहसिक खेल एवं गतिविधियों की सूची –

नौका विहार

जेट स्पीड बोट सवारी

वाटर स्कीइंग

जोर्बिंग

बनाना वोट सवारी

बैंडवेगन वोट सवारी

हॉटडॉग सवारी

पैराग्लाइडिंग

यात्रा करने का सर्वोत्तम समय

टिहरी झील पर जाने का सबसे अच्छा समय अप्रैल से जून के ग्रीष्मकालीन महीनों में है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here