मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने कहा कि सरकार के 3.5 साल के कार्यकाल के दौरान उत्तराखंड में रिकॉर्ड विकास कार्य हुए हैं।

ओर सरकार जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत हमारी सरकार कार्य कर रही है।
उन्होंने पिथौरागढ़ में कहा कि
भाजपा के शासनकाल में सीमांत जिले की चारों विधानसभा क्षेत्रों में कई विकास कार्य हुए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार बिना भेदभाव के कार्य कर रही है।
धारचूला में कांग्रेस का विधायक होने के बाद भी सरकार ने बिना किसी भेदभाव के वहां कई विकास कार्य कराए हैं।
धारचूला क्षेत्र की सड़क आदि विकास कार्यों के लिए 25 से 28 करोड़ रुपये स्वीकृत कराए हैं।
सरकार बेरोजगारों को कैंपा योजना और स्वरोजगार योजना के तहत रोजगार दिलाएगी। उन्होंने कहा कोरोना काल में भाजपा कार्यकर्ताओं ने सराहनीय कार्य किया है।
वही कार्यकर्ताओं के कार्य ई-बुक के माध्यम से सीएम को बताए गए। जिलाध्यक्ष वीरेंद्र वल्दिया की अध्यक्षता में जिला महामंत्री बसंत ने संचालन किया। 
वही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने दो दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम के तहत जिले के आपदा प्रभावित क्षेत्र बरम पहुंचे थे
जहा उन्होंने राहत शिविर में रह रहे आपदा पीड़ितों से मुलाकात की और उनकी समस्याएं भी सुनीं। यहां से मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से नैनीसैनी हवाई पट्टी पहुंचे और पिथौरागढ़ में नवनिर्मित बहुमंजिली पार्किंग और नर्सिंग कॉलेज भवन का निरीक्षण किया। विकास योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि
पिथौरागढ़ में विकास कार्यों हेतु कुल ₹112 करोड़ 47 लाख 11 हजार की लागत के 27 विकास कार्यों का लोकापर्ण व शिलान्यास किया गया। हमने साढ़े तीन सालों में राज्य के विकास हेतु जो भी वादे किए थे उनमें से अधिकांश पूरे कर लिये हैं। वर्तमान में हमारे द्वारा स्वरोजगार की दिशा में निरतंर प्रयास किये जा रहे हैं ताकि हमारे प्रदेश की युवा पीढ़ी आत्मनिर्भर बन सके और दूसरों को रोजगार से जोड़ सके। स्वरोजगार में ₹800 करोड़ की सोलर फार्मिग का कार्य प्रारंभ भी हो गया है, इसके साथ ही कैम्पा के तहत 40 हजार लोगों को रोजगार भी उपलब्ध कराया जायेगा साथ ही 10 हजार युवाओं को मोटर बाईक टैक्सी भी दी जाएगी। जल्द ही अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा 4 हजार नयी भर्तियां भी की जायेगी।
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोई भी विधायक ना सरकार से नाराज है और ना मुझ से
मेने पक्ष हो या विपक्ष सभी को समय दिया है ,सभी के क्षेत्रों मैं तेज़ी से विकास हो रहे है।
बता दे कि जो नाराजगी वाली चर्चाएं चल रही है उसको मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने खारिज किया है


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here