गृहमंत्री राजनाथ सिंह को दी पौड़ी बस हादसे की जानकारी अब तक हादसे मे 48लोगो की मौत की ख़बर!

पौड़ी गढ़वाल से भगवान सिंह की रिपोर्ट ।। पौड़ी गढ़वाल के लिए 1 जुलाई का दिन काल बनकर टूटा है आपको बोलता उत्तराखण्ड बात रहा है कि धूमाकोट तहसील के नैनीडांडा ब्लॉक में पड़ने वाले पिपलीधौन मोटर मार्ग पर ग्वीन गांव के पास गढ़वाल मोटर यूजर्स की बस एक बडे हादसे का शिकार हो गई। इस दुर्घटना में लगभग 48  लोगों की मौत की सूचना मिल रही है. तो 8 लोग गंभीर रुप से घायल बताये जा रहे है इस अकाल मौत मे जान जाने वालो की सख्या बढ़ सकती है मौके पर राहत और बचाव कार्य के एसडीआरएफ की टीम को हेलिकॉप्टर से भेजा गया है।         . जख्मी लोगों को इलाज के लिए धूमाकोट के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। आपको बता दे कि UK12C-0159 नंबर की यह बस सुबह करीब छह बजे धौन गांव से रामनगर की ओर चली थी। इलाके के ही एक गांव में जागर (जागरण) का आयोजन किया गया था। हादसे का शिकार हुए लोग इसमें शामिल होने के बाद लौट रहे थे। इस दौरान अनियंत्रित होने के बाद बस खाई में गिर गई।. सड़क से तकरीबन 100 मीटर नीचे एक बरसाती नाले में गिरने के बाद बस के दो टुकड़े हो गए।    
आपको बता दे कि कोटद्वार-धुमाकोट भानकोट के बीच मे ये बस गहरी खाई में जा गिरी ओर बमनीसेण से धुमाकोट ये बस आ रही थी
नैनीडांडा ब्लॉक में पिपली-भौन मोटर मार्ग पर बस दुर्घटना से पूरे पौड़ी गढ़वाल मे कोहराम मच गया है आपको बता दे कि
भौन से करीब 15 किलोमीटर आगे हुई है ये दुर्घटना ये बस 28 सीटर थी सड़क से करीब 100 मीटर नीचे संगुड़ी गदेरे में ये बस गिरी।    
राज्य के राज्यपाल , मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ओर राज्य सभा सांसद अनिल बलूनी ने
पौड़ी जिले के धूमाकोट के पास बस दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है । उन्होंने मृतकों की आत्मा की शान्ति की प्रार्थना करते हुए, उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है ।
उधर पूरा प्रशाशन मौके पर पहुच गया है और खबर लिखे जाने तक 50 लोगो की मौत की पुष्टि हो चुकी है इस दर्दनाक हादसे के बाद पूरा पहाड़ मै मातम छा गया है।      
जानकारी अनुसार दुःख इस बात का भी ज्यादा वहां के आड़ पास के लोगो को हुवा की राहत व बचाव का कार्य करने वाले तँत्र के पास पर्याप्त साधन नही थे जिससे आस पास के लोगों का उन पर गुसा भी उतरा
सूचना पर पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची। टीम ने घायलों को धुमाकोट अस्पताल में भर्ती कराया है और शवों को ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाला गया।
बताया जा रहा है कि बस 28 सीटर है और उसमें संख्या से ज्यादा यात्री सवार थे। जिला आपदा कंट्रोल रूम ने अभी अभी हादसे में 48  लोगों के मरने की पुष्टि की है। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पौड़ी जिले के धूमाकोट के पास बस दुर्घटना पर गहरा दुख जताया है।                         मृतको के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए जिला प्रशासन को तत्काल राहत पहुंचाने के निर्देश दिये हैं। स्थानीय प्रशासन, पुलिस व एसडीआरएफ बचाव कार्य में जुट गए हैं।
[ मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपए, घायलों को 50-50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि अविलम्ब उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। आवश्यक होने पर घायलों को उपचार के लिए देहरादून लाने के लिए हेलीकॉप्टर का भी प्रयोग किया जाए।
[मुख्यमंत्री ने केंद्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह जी को फोन पर दुर्घटना के बारे मे अवगत कराया गया है। उन्होंने मदद का भरोसा दिया है।

Leave a Reply