हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

पार्टी के सभी जिलाध्यक्षों और विधायकों को वाणी पर संयम रखने का आदेश

देहरादूनः कोरोनाकाल में प्रदेश सरकार के कुछ मंत्रियों, विधायकों के मध्य तल्खी और बयानबाजी को प्रदेश भाजपा नेतृत्व ने गंभीरता से लिया है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक के अनुसार सभी मंत्री, विधायकों और पार्टी कार्यकर्त्‍ताओं को निर्देश दिए गए हैं वे वाणी पर संयम रखें। यह वक्त बयानबाजी का नहीं, बल्कि तन-मन-धन से जनता की सेवा करने का है।

उन्होंने बताया कि पार्टी के सभी जिलाध्यक्षों और विधायकों को यह भी निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में रक्तदान शिविरों का आयोजन करें, ताकि कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए रक्त की कहीं कोई कमी न हो।
हालिया दिनों में सरकार के मंत्रियों व विधायकों के बयानों से जहां पार्टी असहज हुई, वहीं विपक्ष को भी हमलावर होने का मौका मिला है। कैबिनेट मंत्री डा.हरक सिंह रावत के अलग स्वास्थ्य मंत्री को लेकर दिए गए कथित बयान को विपक्ष ने मुद्दा बनाया था। यही नहीं, बीते रोज ही रायपुर कोविड केयर सेंटर के निरीक्षण के दौरान कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी और रायपुर क्षेत्र से विधायक उमेश शर्मा काऊ के मध्य तल्खी चर्चा का विषय बनी। इसके अलावा कुछ अन्य विधायक भी अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहे।
अब प्रदेश भाजपा ने इन बयानों का संज्ञान लिया है। कोविड के मद्देनजर रात्रि आठ बजे वर्चुअल माध्यम से होने वाली बैठकों के दौरान भी मंत्री, विधायकों से कहा जा रहा है कि यह वक्त तू-तू, मैं-मैं का नहीं है। किसी भी तरह की बयानबाजी से बचना चाहिए। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि संकट की इस घड़ी में जनता की सेवा ही कर्म और धर्म है। सभी को इसका पालन करना चाहिए।
कौशिक के मुताबिक भाजयुमो के माध्यम से प्रदेश में प्रदेशभर में रक्तदान व प्लाज्मा दान शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। अब इस मुहिम को व्यापक रूप देते हुए सभी जिलाध्यक्षों के साथ ही पार्टी विधायकों को भी निर्देश दिए गए हैं कि वे रक्तदान शिविरों का आयोजन कराएं।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here