हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

देहरादूनः उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने कोरोना कर्फ्यू को एक हफ्ते के लिए बढ़ाया है, लेकिन इस कोरोना कर्फ्यू का व्यापारी प्रदेशभर में विरोध कर रहे हैं. वहीं, व्यापारियों के अनुरोध पर सीएम तीरथ सिंह रावत ने कर्फ्यू में राहत देने का ऐलान किया है। गौर हो कि सरकार ने आगामी 8 जून कोविड कर्फ्यू को बढ़ाया है, लेकिन कर्फ्यू में ढील न दिए जाने पर व्यापारियों में भारी आक्रोश है. इसी कड़ी में प्रदेश के कई हिस्सों में व्यापारियों ने थाली बजाकर प्रदेश सरकार के खिलाफ जोरदार विरोध प्रदर्शन किया।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने मंगलवार शाम को मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से इस सिलसिले में मुलाकात की। कौशिक के मुताबिक मुख्यमंत्री ने सभी पहलुओं पर गौर करते हुए इस विषय पर विचार करने का भरोसा दिया है। वहीं, मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आश्वासन दिया है कि व्यापारियों के नुकसान को देखते हुए 8 जून से पहले कोविड कर्फ्यू में राहत दी जाएगी. ऐसे में अब व्यापारियों को राहत मिल सकती है। कौशिक के अनुसार वार्ता के दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि कोविड कर्फ्यूर्यू के चलते प्रदेश में व्यापारिक गतिविधियां ठप हैं, जिससे व्यापारियों के सामने आजीविका का संकट खड़ा हो गया है।

उन्होंने कहा कि जब कोरोना के मामले बढ़े तो व्यापारियों ने खुद ही बाजार बंद करने की पहल की। उन्होंने कहा कि सरकार के प्रयासों के बाद कोरोना संक्रमण को लेकर राज्य में अब स्थिति नियंत्रण में है।इसे देखते हुए व्यापारी वर्ग की ओर से मांग उठाई जा रही है कि बाजार खोलने की अनुमति दी जाए। कौशिक के अनुसार उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि कोविड की गाइडलाइन का पालन करते हुए अब बाजार खोले जाएं। नियमित रूप से बाजार खुलने पर अनावश्यक भीड़ भी नहीं होगी और जनता व व्यापारी, दोनों को सहूलियत मिलने के साथ ही कोरोना संक्रमण पर भी अंकुश लगेगा।

वही प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक के अलावा खुद देहरादून के व्यापारी सीएम तीरथ से मिल चुका है और बाजार खोलने का आग्रह भी कर चुके हैं साथ ही सीएम को भरोसा भी दिलाया है कि वह केंद्र और राज्य सरकार की कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए दुकानें खोलने का काम करेंगे हालांकि सरकार पर पड़ रहे दबाव को देखते हुए जहां सरकार ने इस हफ्ते कोरोना कर्फ्यू में 2 दिन दुकान खोलने का फैसला लिया वही दुकानें खोलने के समय को भी एक घंटा बढ़ा दिया इसके अलावा माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में सरकार दबाव को देखते हुए बाजारों को खोलने को लेकर फैसला कर सकती है लेकिन इस फैसले को लेने से पहले सरकार को हर पहलुओं पर सोच विचार कर लेना चाहिए कहीं इसके बुरे परिणाम ना निकल आएं

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here