आप परेशान ना हो जब सरकार ने 15 अगस्त को एलान कर दिया है कि सभी रिक्त सरकारी पदों पर समयबद्ध तरीके से भर्ती की जाएगी।
ओर यही नही इसकी मॉनिटरिंग के लिए कैबिनेट मंत्री की अध्यक्षता में टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा।
ओर जो लोग पहले से संविदा में लगे हैं, उनके लिए अधिमान अंक की व्यवस्था की जाएगी तो ये तय है कि अब एक भी सरकारी भर्ती रिक्त नही रहेगी।

रक्षा बंधन के मौके पर ओर उससे पहले भी प्रदेश की महिलाओं ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को राखी बाध उपहार मैं रोजगार की बात अपने मन से कही होगी तो सुन लीजिए वो भी मिल ही गया ।जी हां उसके लिए यानी कि
महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए ‘‘मुख्यमंत्री महिला उद्यमिता प्रोत्साहन योजना’’ शुरू करने जा रहे हैं। इसके तहत एक साल मैं लगभग 5100 महिलाओं को कियोस्क बनाकर मसूरी, नैनीताल, केदारनाथ, बदरीनाथ आदि प्रमुख स्थलों में आवंटन किया जाएगा। एक कियोस्क से औसतन 4 महिलाओं को रोजगार मानें तो 20 हजार से अधिक महिलाओं को आजीविका का साधन मिलेगा।
वही राज्य सरकार इनको बैकहैंड सपोर्ट उपलब्ध करवाएगी।
ओर सबसे बड़ी बात ये है कि त्रिवेंद्र सरकार आजकल के दौर मैं हो रहे बुजुर्ग पर अन्याय को ओर अधिक नही देख सकती हमारे लिए  बुजुर्ग किसी भी समाज की अनमोल धरोहर होते हैं। उनका अनुभव व बुद्धिमत्ता परिवार, समाज व देश के लिए बहुत जरूरी होता है।
तो वही बुजुर्गों की देखभाल हम सभी का परम दायित्व है। यह देखकर बड़ा दुख होता है कि बहुत से लोग अपने बुजुर्गों की उपेक्षा करते हैं। यह सब समाज में नैतिक व सामाजिक मूल्यों में गिरावट से होने लगा है।
इसलिए त्रिवेंद्र सरकार वृद्ध व्यक्तियों की देखभाल के लिए कानून लाने पर विचार कर रही है
वही अब आ गई है ‘‘मुख्यमंत्री प्रतिभा प्रोत्साहन योजना’’
जी हां जिसके चलते अब टॉपर 25 बच्चों को सभी कोर्सेज में 50 प्रतिशत फीस की स्कॉलरशिप दी जाएगी।
कुछ समझे आप नही ना चलो हम समझाते है जो बच्चे टॉपर होंगे पर अपने सपने पूरा करने के लिए उनके पास धन ना हो वे गरीब हो तो अब सरकार ने खोला है उनके लिए उनके सपनों को पूरा करने का द्वार जी हा
डॉक्टर , इजीनियर, पायलेट, ओर जो भी आपका टॉपर बच्चा बनाना चाहे अब त्रिवेंद्र सरकार
उन टॉपर 25 बच्चों को सभी कोर्सेज में 50 प्रतिशत फीस की स्कॉलरशिप देने जा रही है जिससे उनके सपनों पर पंख लगेगे।

यही नही त्रिवेंद्र सरकार अब
देश को जानो योजना’’ के तहत कक्षा 10 के टॉप 25 रैंकर्स को भारत भ्रमण कराने जा रही है पर बता दे कि ये सभी बच्चे उत्तराखण्ड बोर्ड के होंगे। एक भ्रमण इनका हवाई जहाज से भी होगा। इससे बच्चों को अपने देश के बारे में जानने को मिलेगा। भारत के विभिन्न प्रान्तों की संस्कृति, इतिहास, रहन सहन, खान-पान आदि के बारे में जानने का मौका मिलेगा।  है ना अच्छी सोच। टॉप नम्बर लाओ ओर पूरा इंडिया जानो।

अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति आश्रम पद्धति के विद्यार्थियों के भोजन भत्ते को 3000 रूपए प्रति माह से बढाकर 4500 रूपए प्रति माह कर रहे हैं।

राज्य में सर्विस सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए सरकार प्रायसरत है। शीघ्र ही वेलनेस योगा, आयुर्वेद व पर्यटन पर आधारित संयुक्त रूप से एक समिट का आयोजन किया जायेगा।

इसके साथ ही उत्तराखण्ड के सभी सरकारी विद्यालयों में फर्नीचर, वाटर सप्लाई, टॉयलेट, कंप्यूटर, लाइब्रेरी और लैब की व्यवस्था को चरणबद्ध तरीके से 2022 तक पूरा किया जाएगा मतलब पूरी तरह सरकारी विधालयो की कमी को दूर कर लिया जाएगा।
वही साल 2020 तक प्रदेश की समस्त सहकारी समितियों को कंप्यूटरीकृत किया जाएगा।
बहराल ये सब वो घोषणाये है जो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने 15 अगस्त को कही जनता को सौगात दी । धन्यवाद त्रिवेंद्र सरकार आपका बस अब इंतज़ार है कि इन योजनाओं को अमली जामा पहना कर धरातल पर उतरने का इंतज़ार हम सबको है और उम्मीद करते है कि जल्द से जल्द आपके दिशा निर्देश पर सब कुछ धरातल पर नज़र आये।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here