उत्तराखंड : 10 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जा रहा है ट्रांजिट कैंप , चारधाम यात्रा पर आने वाले यात्रियों के लिए ख़बर ख़ास है

 

मूलभूत सुविधाओं को ध्यान में रखकर 10 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जा रहा है ट्रांजिट कैंप
ख़बर अच्छी है उत्तराखंड बता दे कि अब चारधाम यात्रा पर जाने वाले पर्यटकों के लिए चंद्रभागा के समीप पर्यटन विभाग की भूमि पर ट्रांजिट कैंप-रजिस्ट्रेशन के कार्यालय का निर्माण कार्य आजकल जोरों से जारी है आपको बता दे कि पर्यटकों की मूलभूत सुविधाओं को ध्यान में रखकर सरकार द्वारा 10 करोड़ की लागत से ट्रांजिट कैंप का निर्माण किया जा रहा है।
ओर इसे 2021 तक पूरा कर लिया जाएगा यानी अगले साल आने वाली यात्रा मैं यात्रियों को ओर सुविधाओं से रूबरू होने का मौका मिलेगा
हम सभी जानते है कि साल 2013 तारीख 16 , 17जून
केदारनाथ मैं आई त्रासदी जलप्रलय में हजारों तीर्थयात्री चपेट में आ गए थे।
जिसके बाद से सरकार ने इस यात्रा को सुगम और सुरक्षित बनाने के लिए ट्रांजिट हॉस्टल योजना पर काम करना शुरू किया। बता दे कि
पर्यटन विभाग ने ट्रांजिट कैंप योजना का खाका तो तैयार कर लिया पर भूमि उपलब्ध न होने के कारण ये योजना परवान नहीं चढ़ी। इसके बाद यहां चंद्रभागा और गोपालनगर के पास 3.70 हेक्टेअर वन भूमि को त्रिवेन्द्र सरकार ने जनवरी 2019 में पर्यटन विभाग को ट्रांसफर किया गया।
अब उम्मीद जताई जा रही है कि जुलाई 2021 तक ट्रांजिट कैंप का कार्य पूरा हो जाएगा।
मीडिया रिपोर्टस के अनुसार
ट्रांजिट कैंप की बिल्डिंग का निर्माण ग्राउंड से सिक्स फ्लोर की मजबूती को ध्यान मेें रख किया जा रहा है।
जान ले कि
ट्रांजिट कैंप का निर्माण भूतल, प्रथम और द्वितीय तल में होगा। इसमें भूतल में दो मल्टीपल टिकट काउंटर होंगे। इसमें महिला, पुरुष के अलावा सीनियर सिटीजन और विकलांगों के लिए अलग से सुविधा उपलब्ध होगी। इसके अलावा इसी तल में बैंक व एटीएम सुविधा भी उपलब्ध होगी। पर्यटन विभाग और चारधाम यात्रा से जुड़ा संयुक्त रोटेशन का कार्यालय भी यहां होगा। प्रथम तल में दुकानें लगेंगी। इन दुकानों में यात्रियों के लिए भोजन आदि सुविधाएं होंगी। द्वितीय तल मेें यात्रियों के लिए ठहरने की व्यवस्था होगी। करीब एक समय में 150 यात्री यहां ठहर सकेंगे।
वही इस ट्रांजिट कैंप में चढ़ने उतरने के लिए सीढ़ियों के अलावा लिफ्ट भी लगी होगी। इसके अलावा यहां प्रत्येक तल में टॉयलेटों की भरपूर सुविधा उपलब्ध रहेगी। साथ ही यहां दिव्यांगों के आने जाने के लिए रैंप सुविधा भी होगी।
ओर यहा चारधाम यात्रा के दौरान बाहर से आने वाले वाहनों को यहां खड़ा करने की सुविधा उपलब्ध होगी। एक बार में लगभग 250 से अधिक वाहनों को यहां खड़ा किया जा सकेगा।
जिससे आने वाले समय मैं बहुत राहत यात्रा पर आने वालों की मिलेगी।

Leave a Reply