मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र के राज में : पहला राज्य बना उत्तराखंड
पर्यटन प्रोत्साहन कूपन योजना लागू करने वाला

त्रिवेंद्र सरकार कोविड महामारी के कारण प्रभावित पर्यटन उद्योग को पटरी पर लाने के लिए यूरोपीय देश सिसिली, जापान, और साइप्रस की तर्ज पर अपने उत्तराखंड प्रदेश में पर्यटन प्रोत्साहन कूपन (टीआईसी) योजना लागू की है।
बता दे कि
इस योजना को लागू करने वाला  उत्तराखंड देश का पहला राज्य है। अब सरकार की ओर से पर्यटकों को तीन दिन ठहरने में दी जाने वाली छूट राशि का भुगतान होटलों और होम स्टे को 15 दिन के भीतर किया जाएगा।
जी हा त्रिवेंद्र सरकार ने पर्यटन से जुड़ी अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए और राज्य में अधिक से अधिक पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए इस योजना की शुरूआत की है।
बता दे कि
इसका लाभ लेने के लिए उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों को देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर टूरिस्ट कैटेगरी में अपना पंजीकरण कराना होगा।
ओर तीन दिनों तक होटल व होम स्टे में रहने पर पर्यटकों को अधिकतम 1000 रुपये या 25 प्रतिशत प्रतिदिन के हिसाब से प्रोत्साहन कूपन दिए जाएंगे।

बता दे कि
इस कूपन पर पर्यटकों को होटल व होम स्टे के रूम बिल में छूट का लाभ मिलेगा।
ये योजना पर्यटकों के साथ-साथ होटल और होम स्टे संचालकों के दृष्टिकोण से भी काफी लाभदायक साबित होगी। यह त्रिवेंद्र सरकार की स्वागत योग्य पहल है और राज्य में पर्यटन संबंधी अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में मदद करेगी।
मीडिया को पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने बताया कि पर्यटक प्रोत्साहन कूपन योजना से होटल और होम स्टे संचालकों का कारोबार बढ़ेगा। पायलट प्रोजेक्ट के रूप में यह योजना एक माह के लिए लागू होगी। इस पर पर्यटकों को दी जाने वाली छूट के रूप में 2.70 करोड़ का व्यय भार होने का अनुमान है। योजना सफल रही तो इसे दो माह के लिए और बढ़ाया जाएगा।
तो फिर आइये हम सब मिलकर उत्तराखंड को आगे बढ़ाए
आगे बढ़ता अपना उत्तराखंड
ओर हा कोरोना से सतर्क रहें नियमो का पालन करे
घबराये नही बस जरूरी सावधानी जरूर बरते ।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here