शहीदों के बच्चों सुरक्षा बलों के आश्रितों को फीस में छूट

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय प्रबंधन ने लिया फैसला

इनको मिलेगा लाभ
बीपीएल परिवारों के बच्चों को भी फीस में दी जाएगी रियायत

एसजीआरआर स्कूलों और पीजी कॉलेज के विद्यार्थियों को मिलेगी छूट

एमए    गढ़वाली भाषा एवं संस्कृति की फीस रखी है काफी कम

देहारादून
श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में सत्र 2020.21 में प्रवेश लेने वाले शहीदों के बच्चों और सुरक्षा बलों के आश्रितों को फीस में विशेष छूट दी जाएगी।

जिससे सेना के तीनों अंगों अर्धसैनिक बलों के आश्रितों को फायदा होगा।

इसके साथ ही मेधावी छात्रों और एसजीआरआर संस्थानों से पढ़े विद्यार्थियों को भी फीस में रियायत मिलेगी ।
श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ यूएस रावत ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रबंधन ने पहले ही जनता की मांग पर सभी कोर्सों की फीस में भारी कटौती कर रखी है लेकिन इस सत्र से शहीदों के बच्चों को फीस में विशेष रियायत दी है। अब शहीदों के बच्चों को स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर पर फीस में 10000 ;दस हजार रुपये की छूट दी जाएगी।
जबकि सैन्य बलों के आश्रितों और एसजीआरआर स्कूलों से पढ़े छात्र.छात्राओं को फीस में 5000 ;पांच हजार रुपये की छूट मिलेगी।
इसके साथ ही एसजीआरआर पीजी कॉलेज एवं एसजीआरआर विश्वविद्यालय से स्नातक छात्र.छात्राओं को भी स्नातकोत्तर कोर्सों में दाखिला लेने पर फीस में 10000 ;दस हजार
रुपये की छूट दी जाएगी। एसजीआरआर विश्वविद्यालय से बीसीए एवं बीएससी आईटी करने वाले छात्र यदि विश्वविद्यालय में एडमिशन लेते हैं तो उन्हें कोर्स फीस में 20 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। इसके साथ ही गढ़वाली भाषा को बढ़ावा देने के लिए एम ए गढ़वाली भाषा एवं संस्कृति की फीस अन्य कोर्सों की तुलना में लगभग आधी रखी है जिससे गढ़वाली भाषा पढ़ने वालों को प्रोत्साहन मिल सके।
कुलपति ने बताया कि कोरोना महामारी को देखते हुए विश्वविद्यालय प्रबंधन ने छात्र हित में पिछले वर्ष की सभी रियायतों को बरकरार रखा है। बीपीएल परिवारों के बच्चों एवं दिव्यांगों ;40ः से अधिकद्ध के लिए भी फीस में 5000 ;पांच हजारद्ध रुपये छूट देने का फैसला लिया गया है।
इसके साथ ही मेधावी छात्रों के लिए भी अलग.अलग श्रेणियों में फीस में छूट का प्रावधान है। सिंगल गर्ल चाइल्डए स्टेट एवं नेशनल खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने के लिए भी खास रियायत दी गई है। सगे भाई.बहनों के लिए भी फीस में छूट रखी गई है। इसके अलावा पीएचडी में प्रवेश लेने पर भी प्रदेश के छात्रों को फीस में काफी छूट दी गई है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here