उत्तराखंड : क्रिकेट के दीवानों के लिए अच्छी ख़बर इरफान पठान, युजवेंद्र चहल, मोहित शर्मा आ रहे है देहरादून, देखने को मिलेगा इनका जौहर ओर भी बहुत कुछ

जी हा आपको बता दे कि बीसीसीआई के घरेलू सत्र के रणजी, विजय हजारे ट्रॉफी समेत अन्य टूर्नामेंट के लगभग 60 मुकाबले उत्तराखंड में खेले जाएंगे। वही बता दे कि रणजी में उत्तराखंड का मुकाबला जम्मू कश्मीर के साथ होगा। इसमें इरफान पठान जेएंडके की ओर से खेलते नजर आएंगे। वहीं हरियाणा की रणजी टीम से भारतीय टीम के प्रमुख फिरकी गेंदबाज युजवेंद्र चहल और मोहित शर्मा खेलते हैं। ऐसे में उनके देहरादून आने की पूरी संभावनाएं बन रही है ! जानकारी अनुसार यह मैच दून के रायपुर क्रिकेट स्टेडियम में होगा।


बता दे कि बीसीसीआई की ओर से शुक्रवार शाम को जारी शेड्यूल के हिसाब से उत्तराखंड में विजय हजारे ट्रॉफी के 36 लीग व सात नॉकआउट मैच होंगे। इसके अलावा रणजी, कर्नल सीके नायडू, विजय मर्चेंट, सीके नायडू ट्रॉफी के लगभग 15 मैच उत्तराखंड को मिले हैं। ये भी बता दे कि अभी कुछ मैचों की तिथि व आयोजन स्थल को लेकर स्थिति पूरी तरह साफ नहीं हो पाई है। जानकारी अनुसार मीडिया को बीसीसीआई के लोकल कोर्डिनेटर दीपक पांडे ने बताया है कि फिक्सचर इंटरनल व वर्किंग के लिए जारी किया है। अभी आयोजन स्थल का फैसला नहीं हो पाया है। वही बीसीसीआई की आधिकारिक वेबसाइट पर दर्शकों के लिए जल्द शेड्यूल जारी भी कर दिया जाएगा।


फिलहाल जानकारी अनुसार

रणजी ट्रॉफी जो होगी उसमे

9 दिसंबर -12 दिसंबर, उत्तराखंड बनाम जेएंडके
3 जनवरी-6 जनवरी 2020, उत्तराखंड बनाम असम
27 जनवरी-30 जनवरी 2020, उत्तराखंड बनाम हरियाणा
चार फरवरी-7 फरवरी 2020, उत्तराखंड बनाम सर्विसेज

विजय मर्चेंट ट्रॉफी की जानकारी
11 अक्टूबर-13 अक्टूबर 2019, उत्तराखंड बनाम मध्यप्रदेश
23 अक्टूबर-25 अक्टूबर, उत्तराखंड बनाम विदर्भ
31 अक्टूबर-दो नवंबर, उत्तराखंड बनाम छत्तीसगढ़

सीके नायडू
11 दिसंबर -14 दिसंबर, उत्तराखंड बनाम केरल
27 दिसंबर-30 दिसंबर, उत्तराखंड बनाम छत्तीसगढ़
5 जनवरी 2020-8 जनवरी, उत्तराखंड बनाम त्रिपुरा
6 फरवरी 2020-9 फरवरी, उत्तराखंड बनाम गोवा

कूच बिहार ट्रॉफी
29 नवंबर-2 दिसंबर, उत्तराखंड बनाम असम
6 दिसंबर-9 दिसंबर, उत्तराखंड बनाम त्रिपुरा
27 दिसंबर-30 दिसंबर, उत्तराखंड बनाम जेएंडके
बहराल मीडिया मैं आ रही जानकारी के अनुसार ये तारीख निकल कर सामने आ रही है। आगे कुछ तारीखों मैं बदलाव हो भी सकता है और नही भी। कुल मिलाकर उत्तराखंड के लिए ख़बर अच्छी है । क्योंकि अब धीरे धीरे उत्तराखंड का नाम आगे बढ़ रहा है हर क्षेत्र मैं ।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here