बधाई उत्तराखंड
आपको बता दे कि
उत्तराखंड में ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना के लिए व्यासी से देवप्रयाग के बीच टनल और पुल बनाने की स्वीकृति मिल गई है।

जी हां डबल इंजन की सरकार ने इसके लिए 1890 करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं।
ओर अब
अक्तूबर महीने से तेज़ी से  काम शुरू हो जाएगा।
आपको बता दे कि
व्यासी-देवप्रयाग के बीच 18 किलोमीटर लंबी रेल लाइन पर चार टनल और चार छोटे-बड़े पुल बनाए जाएंगे।
ओर लहभग 1890 करोड़ रुपए के बजट से लगभग 15 किलोमीटर लंबी चार सुंरगें एवं चार पुल बनाए जाएंगे।


सबसे बडी सुरंग 9.5 किलोमीटर लंबी एवं सबसे छोटी 1.5 किलोमीटर लंबी होगी। जबकि दो सुरंगें दो-दो किलोमीटर लंबी बनेगी। इस बीच चार पुल भी बनाए जाने हैं। इनमें से गंगा नदी पर पहला देवप्रयाग-पौड़ी जनपद सीमा को जोड़ने वाला 150 मीटर लंबा पुल भी शामिल है।
वही चार एजेंसियां पुल एवं टनल निर्माण का कार्य करेंगी।
ओर टनल एवं पुल निर्माण के कार्य को पांच साल में पूरा किया जाना है।


रेल विकास निगम के प्रबंधक ओपी मालगुडी ने बताया कि रेल मंत्रालय ने व्यासी-देवप्रयाग के बीच टनल एवं पुल निर्माण को 1890 करोड़ रुपए मंजूर कर दिए हैं।
18 किलोमीटर लंबी रेल लाइन पर चार टनल एवं चार पुल बनाए जाने हैं। अक्तूबर महीने के पहले सप्ताह से काम शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि ऋषिकेश-शिवपुरी एवं शिवपुरी-व्यासी के बीच पहले ही काम शुरू कर दिया गया है।
इसे ही कहते है डबल इंजन की सरकार
प्रदेश में त्रिवेंन्द ओर केंद्र मैं नरेन्द्र
तो फिर क्यो ना आगे बढे अपना उत्तराखंड


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here