दुःखद है देहरादून जिले के त्यूनी में एक ऑल्टो कार अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिर गई। कार सवार सभी छह लोगों की मौत हो चुकी है।


इस कार में सीआईएसएफ इंस्पेक्टर व उनका परिवार सवार था। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि सभी के शव खाई से निकाले जा चुके हैं।दुःखद
वही एक साथ छह शव देख के मौके पर मौजूद हर किसी की आंख आज नम हो गई। इस दर्दनाक हादसे में हंसता-खेलता परिवार खत्म हो गया। स्थानीय लोगों की सूचना पर त्यूनी पुलिस व प्रशासन मौके पर पहुंची और रेस्क्यू कार्य किया।


बता दे कि इस दुःखद हादसे में सीआईएसएफ इंस्पेक्टर श्री पवन नेगी, उनकी पत्नी रश्मि, बेटी ईशीका, बेटी आरव, महिला रिश्तेवार मूर्ति देवी और सुमन देवी मौत हो गई है।


बताया गया कि आज कार बानपुर से त्यूणी बाजार की ओर आ रही थी और अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिर गई। शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है। इस दुःखद हादसे की ख़बर से पवन नेगी जी के सभी साथी ,परिवार के लोग, नाते रिस्तेदार सदमे में ।
किसी हस्ते खेलते परिवार का इस तरह दुनिया से आकाल मोत के काल में चले जाने से सभी दुखी है।

दुःखद ख़बर देहरादून जिले के त्यूनी से है जहा एक ऑल्टो कार अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिर गई। बताया जा रहा है कि कार में सीआईएसएफ इंस्पेक्टर व उनका परिवार सवार था। इस कार मे सवार सभी छह लोगों की मौत हो चुकी है। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि सभी के शव खाई से निकाले जा चुके हैं दुःखद


इस दुःखद हादसे में सीआईएसएफ इंस्पेक्टर पवन नेगी, उनकी पत्नी रश्मि, बेटी ईशीका, बेटी आरव, महिला रिश्तेवार मूर्ति देवी और सुमन देवी की मौत हो गई है दुःखद
बताया गया कि आज ये  कार बानपुर से त्यूणी बाजार की ओर आ रही थी और अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिर गई। वही स्थानीय लोगों की सूचना पर त्यूनी पुलिस व प्रशासन मौके पर पहुंची और रेस्क्यू कार्य किया। व शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है।
वहीं दुःखद ख़बर ऋषिकेश से भी है जहां कल हरियाणा के यात्रियों को लेकर नीलकंठ से ऋषिकेश आ रही एक वैन बैराज से कुछ पहले अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकरा गई। बता दे कि इसमें ड्राईवर समेत तीन लोग घायल हो गए। इसी दौरान वहा से गुजर रहे विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चन्द्र अग्रवाल ने रुककर घटना का जायजा लिया और घायलों को अपने एस्कॉर्ट वाहन से एम्स पहुंचाया।
बता दे कि रविवार को नीलकंठ बैराज रोड पर हरियाणा से आए यात्रियों की वैन पेड़ से टकरा गई। बताया जा रहा है कि यात्रा नीलकंठ के दर्शन कर वापस ऋषिकेश आ रहे थे। अचानक बैराज से पहले कुछ यात्रियों की गाड़ी सड़क से उतर गई और अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई। पूछताछ में घायलों ने अपना नाम कुलदीप, दिलीप पुत्र रघुबीर, अनीस पुत्र अनंतराम और शारदा देवी पत्नी रघुबीर निवासी बस स्टैंड के समीप, शीतला माता मंदिर, गुड़गांव बताया है। पुलिस के अनुसार घायलों के परिजनों को सूचना दे दी गई थी।
जिस तरह से उत्तराखंड मै सड़क हादसे लगातार बढ़ रहे है उससे कही ना कहीं प्रशासन के माथे पर भी चिंता की लकीरें साफ देखी जा सकती है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here