हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

चक्रवात ताउते का असर अब देश के मैदानी और पर्वतीय राज्यों में भी देखने को मिल रहा है। राज्य में लगभग सभी इलाकों में रुक-रुक कर हल्की बूंदाबांदी हो रही है। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक राज्य के 8 ज़िलों में भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी दी गई है. मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार देहरादून, नैनीताल, चमोली, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग के अलावा पिथौरागढ़, टिहरी और बागेश्वर ज़िलों के लिए यह अलर्ट जारी किया गया है. कहा गया है कि आज और कल यानी बुधवार और गुरुवार को मूसलाधार बारिश या तूफान की आशंका है.

मौसम विभाग की इस चेतावनी के मद्देनज़र राज्य आपदा प्राधिकरण ने अलर्ट के चलते संबंधित एजेंसीज़ को भी पूरी तरह सतर्क और तैयार रहने के निर्देश दे दिए हैं. बता दें कि भारत की पश्चिमी सीमा की तरफ समुद्र में आए चक्रवाती तूफान टाउ ते के असर के तौर पर देश के कई राज्यों में भारी बारिश, आंधी या तूफान के हालात बने हुए हैं।

मौसम विज्ञान केंद्र ने मंगलवार को रेड अलर्ट जारी किया है। रिपोर्ट के अनुसार राज्य के कुछ स्थानों में तेज गर्जना के साथ ही आकाशीय बिजली गिरने की पूरी संभावना है। हरिद्वार, देहरादून, ऊधमसिंहनगर जैसे मैदानी क्षेत्रों में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी।

दूसरी ओर अगले 24 घंटे तक देहरादून समेत राज्य के ज्यादातर जिलों में भारी बारिश की संभावनाओं को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग और जिला प्रशासन ने भी तैयारियां तेज कर दी हैं। देहरादून जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने संबंधित विभागाध्यक्षों को तैयारियां पूरी करने की हिदायत दी है। साथ ही अधिकारियों को आपदा से जुड़ी हर जानकारी तत्काल जिला आपदा केंद्र को मुहैया कराने को कहा है।

 

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here