दूरबीन ,लेस वाला बाबा डबल इज़न पर बोल रहा है धावा

रुद्रप्रयाग  कुलदीप राणा की रिपोर्ट

राज्य की पूर्व मुखिया हरीश रावत कुमाऊँ ओर गढ़वाल दौरे पर हैं ओर जब हरीश रावत किसी दौरे पर हो तो मीडिया खुद ब खुद ये जानने के लिए कि अब हर दा क्या करने वाले हैं आगे क्या कुछ बोलने वाले हैं जिससे डबल इज़न को घेरने का मौका मिल जाये इसलिए उनके किसी भी कार्यक्रम या सभा को नही छोड़ते कुमाऊँ में काफल चैप्टर कार्यक्रम से अपने दौरे का आगज़ हर दा ने किया हरीश रावत ने एक बेहतरीन शुरुआत हल्द्वानी से की है. इस कार्यक्रम के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री ने लोगों से पहाड़ी फल काफल, मडुए के बिस्कुट, पहाड़ की हर्बल चाय सहित बाल मिठाई के उत्पादों को बढ़ावा देने की अपील की है. उनका कहना है कि 6 पहाड़ी उत्पाद जो राज्य के लोगों की आर्थिकी से जुडी है उनको बढ़ाने की दिशा में काम करने की शुरुआतउनके द्वारा की जा रही हैं 

जिसके लिये उन्होंने एक टीम भी गठित की है जिसमें पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविन्द सिंह कुंजवाल से लेकर कांग्रेस प्रदेश महासचिव आनंद रावत शामिल है. जो इन उत्पादों की राज्य के अंदर ब्रांडिंग करने साथ ही इन उत्पादों का व्यवसाय करने वालों को बाजार उपलब्ध कराने का भी काम करेंगे.वहीँ उन्होंने कहा कि इसका राज्य सरकार पर भी असर पड़ेगा और वे इन पहाड़ी उत्पादों को बढ़ाने और उनको बाजार उपलब्ध कराने की ओर तेजी के साथ काम करेंगे. कार्यक्रम के बाद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने वहाँ मौजूद पत्रकारों और लोगों को काफल की पार्टी भी दी हर दा किसी ना किसी बहाने छोटी छोटी पार्टी का आयोजन करते रहते हैं और बीजेपी पर प्रहार करने से भी नही चूकते    इस दौरान हर दा को कुमाऊँ से लेकर गढ़वाल तक जहा जहस से उनकी गाड़ी निकली जनता ने जोश के साथ उनका हर जगह स्वागत भी खूब किया फिर चाहे बात हल्द्वानी नैनीताल रानीखेत अल्मोड़ा सिमली कर्णप्रयाग गौचर रुद्रप्रयाग अगस्तमुनि ओर से भारडी सेड तक कि क्यो ना हो हस जगह काग्रेस के कार्यकता नेता और जनता ने हर दा का जोर दर स्वागत किया               भराड़ी  सेड पहुच कर हर दा ने विधानसभा का जायज़ लिया और संतुस्ट नज़र आये लेकिन सरकार पर एक तीर वही पर छोड़ डाला हर दा गढ़वाली में कहा की त्रिवेन्द्र भाई जी अब बताओ सचिवालय भवन का निर्माण कब से होगा      क्योंकि जनता के साथ साथ में भी ये जानने के लिए इछुक हूँ अब आपको यहा सचिवालय के निर्माण का कार्य आरभ कर देना चाहिए क्योकि यही पहाड़ जनता भी चहती हैं ये कहकर डबल इज़न पर हर दा ने सवाल दाग दिया अब यही से होती हैं  हर दा के पैदल केदारनाथ यात्रा का आगज़ हर दा अपनी इस केदारनाथ पैदल यात्रा में राजनीति की दूरबीन ओर शब्दो  से     बाजीगरी करने वाला लेस साथ में लेकर भगवान केदारनाथ की चढ़ाई चढ़ रहे हैं अगर मौसम ने साथ देता रहा तो आज गोरी कुंड से भीमबली तक पहुच जायगे फिर कल मली लिनचोली में रात काट कर अगले दिन यानी 8 मई को भगवान केदारनाथ के दर्शन कर 8 मई को बाबा के धाम में ही रुकर केदारनाथ में अब तक डबल इज़न ने जो काम कराए उनका जायज़ा भी लिया जाएगा ओर ले भी क्यो ना आखिर दिल्ली से लाई गई दूरबीन ओर लेस यही तो काम आयेगे फिर काग्रेस के कार्यकताओं से मुलाकात ओर यही से डबल इज़न की सरकार पर हर दा बरसात की तरह बरसेगे बस देखना ये होगा कि पूरी यात्रा के बाद हर दा क्या क्या कहते नज़र आयेगे डबल इज़न की सरकार के द्वारा किये गए या नही किए गए केदार नाथ में कामो को लेकर फिलहाल बीजेपी के दिग्ज़ नेताओ से लेकर बीजेपी के प्रवक्ताओं की नज़र भी इस वक्त हर दा के एक एक बयान पर टिकी हैं ताकि मौका पढ़ने पर वो भी फ्रंट फुट पर आकर हर दा पर बरसने का कोई मौका ना छोड़े फिलहाल इस बात से तो इनकार नही किया जा सकता कि हरीश रावत की केदारनाथ पैदल यात्रा पर क्या सरकार क्या काग्रेस ओर क्या राज्य की नोकरशाही सबकी नज़रे टिकी हैं कि कब क्या बोल देगा अब ये दूरबीन ओर लेस वाला बाबा

Leave a Reply