मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि
विधायक सल्ट श्री सुरेन्द्र सिंह जीना जी के निधन से उत्तराखंड ने एक ऊर्जावान और दूरदर्शी नेता खो दिया है।
हाल ही में उनकी पत्नी के निधन पर मैं उनसे उनके आवास में मिला था।
उस वक़्त मुझे बिल्कुल भी एहसास नहीं था कि जीना जी हमें छोड़कर चले जाएंगे।
उनकी गणना सर्वाधिक सक्रिय रहने वाले विधायकों में थी। वे वंचित वर्गों की आवाज़ मुखर करने वाले तथा अपने विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए सतत संघर्षरत रहने वाले जनसेवक थे। परमपिता परमेश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें तथा शोक संतप्त परिवारजनों को इस दु:ख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

ॐ शांति शांति शांति!

 

 

भाजपा विधायक सुरेन्द्र सिंह जीना का निधन
कोरोना से हुई मौत
(पत्नी की मौत के गम से नही उबर पाए )
कुछ दिन पहले
पत्नी की भी जो चुकी है मौत
दुःखद

 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने गहरा शोक
जताया
कहा मेने अपना छोटा भाई खो दिया

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने कहा कि जीना जी हमारे युवा ,ऊर्जावान व योग्य कार्यकर्त्ता व विधायक थे वे सड़क से लेकर सदन तक जनहित के मुद्दे उठाते रहते थे
ओर सक्रिय रहते थे।
वे एक शालीन व्यक्ति थे और क्षेत्र के लोकप्रिय थे ।
अभी हाल ही में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र 31 अक्तूबर को उनसे मिलने दिल्ली गए थे जहा मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने उनकी पत्नी के निधन पर गहरा दुख जताया था
ओर आज सुबह ये दुःखद ख़बर 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र
ने कहा कि
ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे व उनके परिवार को यह असीम दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करे।
हाल में उनकी पत्नी का निधन हुआ था और अब उनके निधन से परिवार पर अवर्णनीय दुःख आ पड़ा है। ईश्वर यह दोहरा दुःख सहन करने की शक्ति परिवार को दे।
त्रिवेंद्र ने कहा कि वे व्यक्तिगत रूप से भी बहुत दुःखी है
इस दुःख की घड़ी में पार्टी
, सरकार हम सब उनके
परिवार के साथ है।

विधान सभा मे अपने क्षेत्र की आवाज़ बुलंद तरीक़े से उठाने वाले
भाई जीना
यकीन नहीं हो रहा कि अब आप इस दुनिया में नहीं है।
हमने विधानसभा में सत्ता पक्ष में अगर कोई दबंग विधायक देखा तो सुरेंद्र जीना को देखा ।
हमने देखा है
आप के पास नियमों का ज्ञान था
ओर आपने जनहित के लिए
कही बार सत्ता पक्ष के अपने ही मंत्रियों को घेरा

भाजपा जब विपक्ष में होती थी तो बहुत बुलंद तरीके से आप सत्तापक्ष को घेरते थे।

कुछ दिनों पहले अचानक आपकीं
पत्नी जी का देहांत हुआ
और आज सुबह-सुबह आप के देहांत की खबर आई यकीन करना बहुत मुश्किल है कि अब आपकी हमेशा चेहरे पर रहने वाली वो मुस्कान हमें दिखाई नहीं देगी। बेदाग और साफ छवि आपको हमेशा औरों से अलग बनाती थी।

पूरे सल्ट क्षेत्र को जब से आप की तबीयत खराब होने की सूचना मिली तो यही उम्मीद थी कि जल्दी हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होकर आप क्षेत्र में फिर जन सेवा में जुट जाओगे
लेकिन ऐसा नहीं होना था शायद और आज सुबह यहां पर आई।

आप को शत-शत नमन ओम शांति शांति


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here