उत्तराखंड : बहन ने कर दी मासूम 2 साल के भाई की हत्या, क्योंकि मां-बाप के काम पर जाने के बाद रखना पड़ता था उसका ध्यान , सुनकर है सब हैरान

मां-बाप के काम पर जाने के बाद रखना पड़ता था ध्यान,

 

 

उत्तराखंड के हरिद्वार जिले से एक ख़बर चौकाने वाली है
ओर सुनकर दिल मैं दर्द भी पैदा हो जाएगा ।
आखिर क्या ऐसा भी हो सकता है कि एक बहन ने अपने मासूम भाई को केवल इसलिए मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि उसे उसका ध्यान रखना पड़ता था????
बता दे कि शुक्रवार की सुबह घर से गायब दो साल के मासूम पूरब की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई।
जानकारी है कि पूरब की सगी नाबालिग बहन ने चचेरी बहन के साथ मिलकर मासूम की हत्या कर दी दुःखद
बताया गया है कि
मां बाप के काम पर चले जाने के बाद मासूम भाई की परवरिश बहन को ही करनी पड़ती थीओर जिससे परेशान होकर उसने अपने भाई की हत्या कर दी उर्फ सुनकर दिल कांप गया

मीडिया जानकारी के अनुसार पुलिस पूछताछ में आरोपी नाबालिग बहन ने बताया कि पहले उसने मासूम को दूध में नशीली गोलियां मिलाकर बेहोश किया और फिर उसे गंगनहर में फेंक दिया।
बता दे कि इससे पहले ज्वालापुर क्षेत्र की लोधामंडी बस्ती में घर के अंदर सो रहा दो साल का मासूम के शुक्रवार को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता होने की ख़बर आई थी।
पेशे से पंक्चर की दुकान चलाने वाला सोनू लोधामंडी में अपने परिवार के साथ रहता है। शुक्रवार की सुबह लगभग पांच बजे जब उसकी पत्नी जमुना देवी की आंख खुली तब अपने दो साल के मासूम बेटे पूरब को गायब पाया।
तब महिला ने बेटे को गायब देखकर शोर मचाया।ओर दंपति सीधे अपने परिचितों के साथ रेल चौकी पहुंचे।
जिसके बाद दो साल के मासूम के गायब होने की खबर मिलने पर पुलिस के होश उड़ गए थे।
जिसके बाद कोतवाली प्रभारी योगेश सिंह देव और रेल चौकी प्रभारी सुनील रावत ने तत्काल ही घटनास्थल पर पहुच कर पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली थी।

Leave a Reply