हेमवती नंदन बहुगुणा को भारत रत्न देेने की उठी मांग

ऋषिकेश- आजादी के सिपाही और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय हिमपुत्र हेमवती नंदन बहुगुणा की जयंती पर आज उनको उत्तरप्रदेश से लेकर उत्तराखंड तक शिद्दत से याद किया गया। बहुगुणा जी की सौवीं जयंती पर उन्हें भारत रत्न देने की मांग भी की गई।

हिमपुत्र जिंदा होते तो आज सौ साल के होते। ऐसे में उनके अनुयायियों ने उनकी जयंती को शताब्दी वर्ष जयंती के रूप में मनाया और उनके जीवन से प्रेरणा लेने पर जोर दिया ।

मुनिकीरेती नगर पालिका द्वारा स्थापित हेमवती नंदन बहुगुणा पार्क में एकत्र अनुयायियों ने उनकी मूर्ति पर माल्यार्पण कर उनका भावपूर्ण स्मरण किया।

उन्हें याद करते हुए वक्ताओं ने कहा कि स्वर्गीय बहुगुणा ने बेशक उत्तरप्रदेश और केंद्र की राजनीति की लेकिन उनके चिंतन का केंद्र बिंदु हमेशा पहाड़ रहा। पर्वतीय इलाके के दुरूह जीवन को कैसे सुगम बनाया जाए वे हमेशा इसके लिए कुछ न कुछ करते रहे।

मुनि की रेती पालिकाध्यक्ष शिवमूर्ति कंडवाल सहित उनके अनुयायियों ने राष्ट्रपति से स्वर्गीय बहुगुणा को भारत रत्न से सम्मानित करने की मांग की।

उधर पौड़ी में डीएम कार्यालय के बाहर स्व हेमवती नंदन बहुगुणा के जन्म दिवस पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कार्यक्रम आयोजित किया गया।

Leave a Reply