मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आज प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों से फोन के माध्यम से कोविड-19 के प्रभावी नियंत्रण के लिए की जा रही तैयारियों की जानकारी ली
मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुचारू रखी जा
|लखाद्यान्न एवं आवश्यक वस्तुओं की पूर्ण उपलब्धता रखी जाए| सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराया जाए| प्रदेश की जनता को सुरक्षित रखना हम सबकी जिम्मेदारी है| उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि किसी भी प्रकार की आवश्यकताओं के लिए शासन के उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जाए| मुख्यमंत्री ने कहा कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग लिया जाए| यह ध्यान रहे कि खाद्यान्न एवं अन्य सामग्री में ओवर रेटिंग की शिकायत ना हो|
वहीं  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने प्रदेश के सभी मुख्य चिकित्साधिकारियों से भी स्वास्थ्य सुविधाओं एवं आवश्यक व्यवस्थाओं की जानकारी ली| स्वास्थ्य संबंधी किसी भी आवश्यक सामग्री के लिए स्वास्थ्य सचिव एवं डीजी स्वास्थ्य से संपर्क करने के निर्देश दिए|
इससे बड़ी ख़बर ये है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कोरोना वायरस के दृष्टिगत अपने 5 माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का निर्णय लिया है।
मुख्यमंत्री की पत्नी श्रीमती सुनीता रावत ने कोरोना वायरस के दृष्टिगत 1 लाख रुपए का चेक, मुख्यमंत्री की बेटी कृति रावत ने 50,000 एवं श्रृजा ने 2000 रुपए का चेक मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए दिए हैं।


वहीं वैश्विक कोरोना महामारी से पीड़ित जनता के सहायतार्थ प्रदेशीय जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ आगे आया है ओर अब लगभंग ढाई करोड़ की राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में सहायता राशि जमा की जाएगी

मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के प्रदेश कोषाध्यक्ष श्री सतीश चंद्र घिल्डियाल ने भेंट के दौरान यह जानकारी दी।
वही द इंडियन एकेडमी सीनियर सेकेंडरी स्कूल की ओर से कोविड-19 के दृष्टिगत मुख्यमंत्री राहत कोष हेतु दो लाख का चेक दिया है, यह चेक स्कूल के डायरेक्टर *श्री मुनेंद्र खण्डूङी* ने दिया। डीजी स्वास्थ्य डॉ अमिता उप्रेती ने 50,000 रुपए का चेक एवं उनके पति डॉ ललित मोहन उप्रेती ने भी 50,000 रुपए का चेक कोविड-19 के दृष्टिगत मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए दिए। मुख्यमंत्री के ओएसडी जे.सी खुल्बे ने 5,000 रुपए का चेक, वरिष्ठ प्रमुख निजी सचिव श्री के.के मदान ने 11000 रुपए का चेक एवं वरिष्ठ निजी सचिव श्री हेमचंद्र भट्ट ने 5,100 रुपए का चेक मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए हैं।
बहराल मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र जी सब परिवार मदद के लिए आगे आये है बोलता उत्तराखंड परिवार की तरफ से मुख्यमंत्री जी सहित सब परिवार का धन्यवाद
उम्मीद करते है कि अब सभी राजनीतिक दल, नेता, विधयाक, मन्त्री , आगे आयेगे।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here