हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

कोविड अस्पतालों के बाद अब कोविड केयर केंद्र में भी मरीजों की मौत का मामला सामने आया है। जिले के सबसे बड़े रायपुर स्टेडियम स्थित कोविड केयर केंद्र में इस बार अब तक 27 मरीजों की मौत हो चुकी है। हैरत की बात यह है कि मरने वाले मरीजों की संख्या को सरकारी पोर्टल पर नियमित रूप से अपडेट नहीं किया जा रहा था।वहीं, कोविड केयर केंद्र के सूत्रों के मुताबिक, केंद्र के नोडल अधिकारी को रोजाना लिखित में इस बारे में जानकारी दी जाती रही है। कंप्यूटर और डाटा एंट्री ऑपरेटर न होने के कारण केंद्र में इसे पोर्टल पर अपडेट नहीं किया जा पा रहा था।

रायपुर स्थित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में गत वर्ष कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने पर कोविड केयर सेंटर बनाया गया था। इस बार भी मरीजों की संख्या बढ़ने पर आइसोलेशन के रूप में इसे दोबारा से शुरू किया गया। केंद्र में ज्यादा गंभीर मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा था। इसके बावजूद केंद्र में मरीजों की मौत का आंकड़ा चौंकाने वाला है।

क्योंकि निर्देश थे कि कोविड केयर केंद्र में 90 प्रतिशत से नीचे ऑक्सीजन वाले और गंभीर मरीजों को भर्ती न किया जाए। इसके बावजूद केंद्र में मरीजों की मौतें होती रही और इसे नियमित तौर पर आधिकारिक पोर्टल पर दर्ज भी नहीं किया। जिससे वहां हो रही मौतों के बारे में भी असल स्थिति पता नहीं लग पाई।

 ऑक्सीजन सिलेंडर और कंसंट्रेटर भी लगाए गए

रायपुर कोविड केयर केंद्र में ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ ही ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी लगाए गए हैं। ताकि मरीजों को दिक्कत होने पर उन्हें ऑक्सीजन दी जा सके। इसके अलावा वहां पर वरिष्ठ चिकित्सकों की ड्यूटी भी लगाई गई है, जिनकी देखरेख में मरीजों का इलाज चल रहा है। सूत्रों ने बताया कि अस्पतालों में बेड न मिलने पर कुछ राजनीतिक लोगों और अधिकारियों के दबाव में गंभीर मरीजों को भी केंद्र में भर्ती किया गया। जिससे मरीजों की मौत का मामला बढ़ा है।

स्वास्थ्य विभाग ने भेजा कारण बताओ नोटिस

रायपुर कोविड केयर केंद्र में मरीजों की मौत का आंकड़ा रोजाना आधिकारिक पोर्टल पर अपलोड न किए जाने को लेकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय की ओर से केंद्र को कारण बताओ नोटिस भेजा गया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अनूप कुमार डिमरी ने बताया कि अब केंद्र का संचालन राजकीय दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल की ओर से किया जा रहा है। वहां पर सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया गया है।

 

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here