बदरीनाथ हाईवे पर पहाड़ी से गिरे विशाल बोल्डर की चपेट में आई बस, सात यात्रियों की मौत दुःखद

दुःखद खबर बदरीनाथ हाईवे से जहा पर यात्रियों की बस के ऊपर पहाड़ी से विशालकाय बोल्डर गिर गया। जिससे बताया जा रहा है कि सात यात्रियों की मौत हो गई है दुःखद जानकारी के मुताबिक यह हादसा लामबगड़ में आज सुबह नौ बजे हुआ।


वही एसडीआरएफ, पुलिस, प्रशासन की टीम और स्थानीय लोग अभी तक रेस्क्यू कार्य में लगे हुए हैं। फिलहाल यह पता अभी नहीं लग पाया है कि यात्री कहां के हैं। इस हादसे के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई। अभी पांच लोगों को बस से निकाला गया है। कुछ लोग ख़बर लिखे जाने तक बस के अंदर फंसे हुए हैं। जनाकरी अनुसार ये बस बदरीनाथ से लौट रही थी। तो वही आज मंगलवार का दिन मासूम बच्चों पर भी काल बनकर टूटा दुःखद है


बता दे कि टिहरी जिले के प्रतापनगर-कंगसाली-मदननेगी मोटर मार्ग पर बच्चों को लेकर स्कूल जा रहा वाहन अनियंत्रित होकर खाई में गिर गया। हादसे में नौ बच्चों की मौत हो गई, जबकि आठ बच्चे घायल बताए जा रहे है मीडिया जानकारी के अनुसार ये घटना टिहरी जिले के प्रतापनगर ब्लॉक की है। जहां आज सुबह यह हादसा हुआ। दर्दनाक उस मज़र को देखकर हर कोई सहम गया है ।सूचना पर एसडीआर, पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची और राहत व बचाव कार्य तेज़ी से शुरू किया गया


बताया जा रहा है गया कि इस गाड़ी कुल 17 बच्चे सवार थे।
एसओ लंबगाव ने बताया कि घटना में नौ बच्चों की मौत हो गई है दुःखद और आठ गंभीर रूप से घायल हैं।
वही उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने टिहरी के प्रतापनगर क्षेत्रान्तर्गत कगंसाली में बस दुर्घटना पर ओर बद्रीनाथ हाइवे पर पहाड़ी से गिरे बस पर बोल्डर से जिस कारण 6 से अधिक यात्रियों की दर्दनाक मौत हो गई है इस पर मुख्यमंत्री ने गहरा शोक जताते हुए मृतकों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। साथ ही उन्होंने तत्काल अधिकारियों को तेजी से राहत बचाव कार्य करनें व घायलों का समुचित उपचार सुनिश्चित करने के निर्देश दे दिये थे ।

साथ ही टिहरी घटना की दुर्घटना की मजिस्ट्रेट जांच के निर्देश मुख्यमंत्री ने दिये वही गम्भीर घायलों को एम्स ऋषिकेश लाने के लिए हेली रेस्क्यू के लिए निर्देश तत्काल दे दिए थे ।
वही भाजपा कार्यलय मैं अनुच्छेद 370 के हटने का जश्न आज होना था


बड़ी सख्या मैं दाईत्व धारी, मंत्री, नेता कार्यलय मैं जुट चुके थे पर इस हादसे की जानकारी मिलने के बाद जश्न का कर्यक्रम रोक दिया गया है।
इस हादसे से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत बेहद दुःखी है।

वही उत्तराखंड से राज्यसभा सदस्य और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख  अनिल बलूनी ने भी जनपद टिहरी में वाहन दुर्घटना में बच्चों के निधन पर गहन शोक प्रकट किया है। उन्होंने कहा यह हृदय विदारक है, इस दुख को शब्दों में व्यक्त नहीं किया जा सकता है। उनके माता-पिता किस वेदना और मनः स्थिति में होंगे अनुभव कर सकता हूं। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हू कि उनके परिजनों को इस असह्य पीड़ा को सहने की शक्ति दे और दिवंगतों को अपने श्री चरणों में स्थान दें।
यह दुर्घटना किन परिस्थितियों में हुई? यह गंभीर जांच का विषय है क्योंकि पूरे पर्वतीय क्षेत्र में दूर-दूर तक स्कूली बच्चे बसों और टैक्सियों द्वारा यात्रा करते हैं। उनके सुरक्षा उपाय की निगरानी के मानक सुनिश्चित करने होंगे



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here