cm

उत्तराखंड में 33 स्वास्थ्य केंद्रों में शनिवार सुबह 10:30 बजे से कोविड 19 वैक्सीन टीकाकरण शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब से कुछ देर बाद सुबह साढ़े 10 बजे अभियान का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र दून अस्पताल में पहुचे, शुभारंभ पर वर्चुअली जुड़े। इस अभियान में भाग ले रहे स्वास्थ्य कर्मियों में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है। 

सीएम त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि, “टीकाकरण को लेकर मन में किसी भी तरह का भ्रम न रखें और इससे बिल्कुल भी ना घबराएं। कोविड-19 वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। साथ ही मेरा विनम्र अनुरोध है कि टीकाकरण के बाद भी सही से मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना तथा हाथों को बार-बार धोना न छोड़ें। कोरोना से बचाव के इन नियमों का पालन पहले की भांति ही करते रहें। वैश्विक महामारी के खिलाफ विजय के इस अभियान में आप सभी से सहयोग की अपेक्षा है। उन्होंने कहा कि कुंभ मेले के दृष्टिगत 20 हजार अतिरिक्त वैक्सीन के लिए केन्द्र सरकार से अनुरोध किया गया है।”

राजधानी देहरादून के दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सबसे पहले वार्ड ब्वॉय शेलेंद्र को कोरोना का टीका लगा। वे लंबे समय से कोविड वार्ड में ड्यूटी कर रहे हैं। टीका के बाद उन्हें आधे घंटे के लिए ऑब्जरवेशन में रखा गया। उन्होंने बताया कि इस वैक्सीन से डरने की जरूरत नहीं है। एक बच्चा भी मामूली टीका लगा लेता है। कहा कि अफवाहों पर ध्यान न दें। टीकाकरण जरूर करवाएं।

आज पहले दिन प्रदेश के सभी 13 जिलों में 34 बूथों पर तीन हजार से अधिक हेल्थ वर्करों को कोविड का टीका लगाया जा रहा है। इसमें देहरादून जिले में पांच, हरिद्वार व ऊधमसिंह नगर जिले में चार-चार बूथ, नैनीताल में तीन और बाकी जिलों में दो-दो बूथों पर टीकाकरण किया जा रहा है।

पहले चरण में केंद्र की ओर से प्रदेश के 1,07530 सरकारी व निजी अस्पतालों के हेल्थ वर्करों, 1640 केंद्रीय स्वास्थ्य
कर्मचारियों, 3450 आर्म्ड फोर्स मेडिकल सर्विसेस के कर्मचारियों के लिए वैक्सीन की डोज निर्धारित की गई है।  केंद्र की ओर से टीकाकरण प्रक्रिया पर निगरानी रखने के लिए 34 टीकाकरण बूथों पर वेब कास्टिंग भी की जा रहा है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here