कॉलेज मे दाखिल ना मिलने पर छात्रा ने खाया जहर हालत गम्भीर

ख़बर दुःखद है क्योकि आज कल नोजावन जरा जरा सी बात पर आत्महत्या जैसे कदम बिना आगे का सोच समझकर उठा लेते है उनको ये भी उस समय नही सूझता की जिन माता पिता ने जैसे तैसे उनका पालन पोषण कर इतना बडा कर दिया आज वही नोजवान उनको बुढ़ापे मे अकेला छोड़कर आत्महत्या जैसे कदम उठा रहे है जो दुखदायी है ।
आपको बता दे कि खबर देहरादून के विकास नगर से है जहा कॉलेज में एडमिशन ना मिलने के चलते छात्रा ने जहर खा लिया जिसकी हालत हालत गंभीर बनी हुई है
आपको बता दे कि विकासनगर क्षेत्र के डाकपत्थर स्थित शहीद केसरीचंद राजकीय महाविद्यायल में एडमिशन ना मिलने के चलते एक छात्रा ने जहर खा लिया. इस घटना की सूचना ओर जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची फिर पुलिस ने युवती को दून अस्पताल में भर्ती करवाया. जहां उसकी हालत अभी गम्भीर बनी हुई है. आपको बता दे कि छात्रा को आईसीयू में 24 घंटे की निगरानी में रखा गया है.

विकासनगर थानाध्यक्ष एस. एस. नेगी के अनुसार तहरीर में बताया गया कि छात्रा को दाखिला नहीं दिया जा सकता था, क्योंकि कॉलेज में होने वाले छात्र संघ चुनावों को देखते हुए आचार संहिता बृहस्पति शाम 5 बजे से लागू कर दी गयी थी. दूसरी ओर छात्रा के साथी छात्रों का कहना है कि प्राचार्य ने साफ तौर पर शुक्रवार की सवेरे कॉलेज आकर दाखिला देने का आश्वासन दिया था.
जानकारी अनुसार छात्रा ने अपने सुसाइट नोट में लिखा है कि उसके सभी प्रमाण पत्रों को दरकिनार कर उसे कॉलेज में प्रवेश नहीं दिया गया है. ऐसे में वह दुःखी होकर खुदकुशी कर रही है. जिसका जिम्मेदार कॉलेज प्रशासन व प्रिंसिपल होंगे. बहराल अभी छात्रा अस्पताल में उस ज़िंदगी के लिए जग लड़ रही है जिस जिंदगी को उसने ना जाने क्या सोच कर अलविदा कहने की ठानी थी। दुःख होता है बोलता उत्तराखंड़ को की क्या हो गया है आज की पीढ़ी को जो बिना सोचे समझगे कुछ भी छोटी छोटी बातों पर अपनी ज़िंदगी को खत्म करने पर तुले है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here