ड्रोन से बाल-बाल बचे सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत

इंजीनियरिंग कॉलेज के स्थापना दिवस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ड्रोन की चपेट में आने से बाल-बाल बच गए। समारोह में कॉलेज के छात्र मुख्यमंत्री के सामने ड्रोन उड़ाने का प्रदर्शन कर रहे थे। अचानक ड्रोन के रिमोट पर छात्र का नियंत्रण गड़बड़ा गया और ड्रोन सीधे मुख्यमंत्री के चेहरे के करीब जा पहुंचा। सीएम ने खुद को बचाते हुए चेहरा पीछा किया और सुरक्षा में तैनात स्थानीय अभिसूचना इकाई के दारोगा ने ड्रोन दूसरी तरफ धकेला। सीएम को बचाने में दारोगा घायल हो गया।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत रविवार सुबह कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के स्थापना दिवस कार्यक्रम में शामिल होने हरिद्वार पहुंचे थे। इसी दरम्यान कॉलेज के छात्र-छात्रओं ने मुख्यमंत्री के सामने अलग-अलग तरीकों से अपनी प्रतिभाओं का प्रदर्शन किया। इंजीनियरिंग छात्रों की एक टीम ने ड्रोन का प्रदर्शन किया। एक छात्र रिमोट से ड्रोन को कार्यक्रम स्थल पर उड़ा रहा था। अचानक छात्र का नियंत्रण रिमोट पर गड़बड़ा गया और ड्रोन तेजी के साथ उड़ता हुआ मंच की तरफ जा पहुंचा। ड्रोन अचानक मुख्यमंत्री के चेहरे के बिल्कुल करीब जा पहुंचा। ड्रोन पर पहले से नजरें टिकी होने के चलते मुख्यमंत्री ने झट से अपना चेहरा पीछे किया। पास में खड़ा सीएम सुरक्षा में तैनात दारोगा शीशपाल रौथाण भी हरकत में आ गया और उसने ड्रोन को हाथ से दूसरी तरफ धकेला। ड्रोन की पंखुड़ी लगने से दारोगा के हाथ में चोट आई और खून बहने लगा।

Leave a Reply