क्या सीएम रावत भी है स्वाइन फ्लू की चपेट में,पांच दिन की मेडिकल डोज शुरू

दिवंगत थराली के विधायक मगन लाल शाह को स्वाइन फ्लू की पुष्टि के बाद हड़कंप की स्थिति है पहली बात तो ये कि क्या उत्तराखंड की चिकित्सा सुविधाएं इतनी लचर है कि इतने दिनों बाद विधायक मगन लाल को स्वाइन फ्लू की पुष्टि हो पाई है।यही नही स्वाइन फ्लू के उपचार में बरती गई कोताही अब सरकार पर ही भारी पड़ती दिख रही है।

सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और बीजेपी के मंत्रियों समेत कई नेताओं का एहतियातन टेस्ट कराने की नौबत आ गई है।क्योंकि दिवंगत विधायक मगन लाल शाह जब बीमार थे तो कई नेता उनसे मिलने पहुंचे थे उस वक्त किसी को भी ये मालूम नही था कि उन्हें स्वाइन फ्लू जैसी संक्रामक बीमारी है।इस बीमारी के कहर से सभी अच्छी तरह से वाकिफ है अब हाल ये है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को भी निगरानी में रखा गया है और बुधवार को डॉक्टरों ने उन्हें टेमी फ्लू की पहली खुराक भी दे दी है।टेमी फ्लू का पांच दिन का कोर्स है जो कि मुख्यमंत्री को दिया जाना है।वही बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट,मंत्री अरविंद पांडे,मंत्री धन सिंह रावत,विधायक महेंद्र भट्ट,कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह भी उनका हाल जानने अस्पताल पहुंचे थे अब ये सभी लोग दहशत में है और इन सभी लोगों को जांच की सलाह दी गई है।प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने मंगलवार को ही वैक्सीन भी लगवा चुके है।उधर स्वास्थय विभाग में स्वाइन फ्लू को लेकर हड़कंप मचा हुआ है क्योंकि मामला अब वीवीआईपी से जुड़ गया है एहतियातन विभाग इससे निपटने के लिए अपनी कमर कसने में जुट गया है।

Leave a Reply