देहरादून और हल्द्वानी में ये बनेंगे महापौर! उत्तराखंड के सात नगर निगमों में मेयर की तस्वीर हुई साफ !

   देहरादून- अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा और किसी आपत्ति पर गौर नहीं किया गया तो राज्य के नगर निगमो की वो तस्वीर साफ हो गई है जिस पर शहरों के मंझौले कद के नेताओं की नजर लगी हुई थी।

हाई कोर्ट से मिली रियायत के बाद शासन ने राज्य के आठ नगर निगमों में से सात के मेयर पदों के लिए आरक्षण की स्थिति साफ कर दी है।

इस सिलसिले में आज अनंतिम अधिसूचना जारी कर दी गई। जिसके मुताबिक देहरादून और हल्द्वानी में मेयर का पद सामान्य रहेगा। जबकि बाकी सात नगर निगमो में आरक्षित।

राज्य के शहरी विकास सचिव आरके सुधांशु की ओर से सात नगर निगमों के महापौर पदों पर आरक्षण की अनंतिम अधिसूचना जारी कर दी गई।

जिसके तहत हरिद्वार, ऋषिकेश और कोटद्वार में मेयर महिला होंगी। जबकि रुद्रपुर में अनुसूचित और काशीपुर में पिछडी जाति का उम्मीदवार मेयर बनेगा। वहीं रुड़की नगर निगम को स्टे के चलते फिलहाल छोड़ दिया गया है।

गौरतलब है कि रुद्रपुर नगर निगम के परिसीमन और आरक्षण की प्रक्रिया शुरू करने पर अदालत ने रोक लगा दी थी। इस मामले में गुरुवार को अदालत ने प्रक्रिया प्रारंभ करने की इजाजत दे दी। इसके साथ ही शासन ने गुरुवार को रुद्रपुर नगर निगम के परिसीमन की अनंतिम अधिसूचना जारी कर दी थी।

अब सात नगर निगमों में शनिवार से सात दिन तक महापौर पदों के आरक्षण के संबंध में आपत्तियां प्राप्त की जाएंगी। अपर निदेशक शहरी विकास यूएस राणा के मुताबिक आपत्तियां शहरी विकास निदेशालय में दर्ज कराई जाएंगी। आपत्तियां प्राप्त होने के बाद दो दिन निदेशालय में इन पर सुनवाई कर रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी।

खबर है कि, निकाय चुनावों से संबंधित सभी प्रक्रियाएं 20 मई तक पूरी हो जाएंगी। इसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग को शासन की ओर से रिपोर्ट भेजी जाएगी। उसके बाद ही नगर निकायों के चुनाव कार्यक्रम की तस्वीर कुछ साफ हो पाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here