नशे ने फिर उजाड़ दिए घर , चली गोली, दो की मौत

शराब का नशा जानलेवा भी होता है ये नशा आपकी जान भी ले सकता है और नशा करने वाला खुद की जिंदगी भी बर्बाद कर देता है ….. उतार देगा वो आपको मौत के घाट लिहाजा आप रहिए नशा करने वालों से सावधान …. और खासकर जब नशा करने वाले के पास हो लाइसेंसी पिस्तौल या बंदूक तो वो आपको गोली भी मार सकता है … हंसता खेलता किसी का परिवार भी उजाड़ सकता है और खुद भी सलाखों के अंदर पहुंचकर अपने परिवार को बेगाना छोड़ सकता है ….

जी हां यही है शराब का नशा खबर चंपावत के खेतीखान की है जहां नशे में धुत गार्ड दिनेश बोरा ने बैंक कैशियर और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को मौत के घाट उतार दिया जब बैंक खुला तो बैंक में नशे में धुत गार्ड का किसी बात को लेकर दो कर्मचारियों से विवाद हो गया और आक्रोशित गार्ड ने सबसे पहले कैशियर को गोली मार दी चतुर्थ कर्मचारी भागने का प्रयास करने लगा लेकिन वो भी नशे में धुत गार्ड से बच न पाया और उसको बैंक के बाहर गार्ड ने दूसरी गोल मारी घटना के बाद ही गार्ड दिनेश फरार हो गया था

… लेकिन पुलिस ने बाद में उसे दबोच कर सलाखों के अंदर पहुंचा दिया … आपको बता दें कि मृतक कैशियर ललित सिंह चंपावत के ही चैमेल के रहने वाले थे …. और चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी राजेंद्र वर्मा भी तहसील चंपावत का रहने वाला है … इस वक्त इन दोनों की मौत की खबर सुनकर दोनों ही परिवारों में मातम पसरा हुआ है तो वहीं जिस गार्ड ने गोली मारी …. उसके घर पर भी माहौल मातम से कम नहीं है …. पूरी खबर आपके सामने लाकर हमने रख दी है … बोलता उत्तराखण्ड करता है आप सब से अपील कि नशे से रहें आपसब दूर नशा खराब है आप नहीं इस नशे में कुछ भी हो सकता है हंसता खेलता परिवार भी उजड़ सकता है आपके प्रदेश के मुखिया त्रिवेंद्र रावत जी भी राज्य को नशा मुक्त उत्तराखण्ड बनाने का संकल्प आजकल सबको

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here