सीएम की रडार पर अभी और है कुछ आईएएस अफसर !इनका भी निकलेगा खाता बही

राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत अब फार्म मे नज़र आने लगे है और जीरो टालरेश की नीति के तहत वो अब किसी भी अफसर को छोड़ने के मूड मैं नही दिखाई दे रहे है हमारे सूत्र बोल रहे है कि आने वाले दिनों मैं अभी राज्य के ओर कही अफ़सरो पर कार्यवाही हो सकती है आपको बता दे कि m.d.d
A के अधिकारियों पर लगातार मिली भगत ओर साथ गांठ का आरोप अकसर लगता रहता है। और ये आरोप खुद बीजेपी और कांग्रेस के नेता अक्सर लगाते है । याबी सूत्र बोल रहे है कि त्रिवेन्द्र रावत के दिशा निर्देश मे चल रहीं सरकार चार ओर आईएएस अफसरों और दो पीसीएस अफसरों के कार्यकाल का स्पेशल ऑडिट करने का फैसला ले चुके है।
आपको बता दे कि सुत्रो के अनुसार यह चारों आईएएस अफसर एमडीडीए में उपाध्यक्ष और दोनों पीसीएस अफसर सचिव पद पर कार्यरत रहे हैं।
सरकार ने एमडीडीए के पिछले पांच सालों के कार्यों का स्पेशल ऑडिट कराने का फैसला किया है। ये जानकारी अभी मिल रही है।
ऐसे में इन छह अधिकारियों के कार्यकाल की पूरी जांच की जाएगी।
आपको बता दे कि उपाध्यक्ष पद पर पिछले पांच वर्षों के दौरान आर मीनाक्षी सुंदरम, डॉ षणमुगम, विनय शंकर पांडे और आशीष श्रीवास्तव रहे हैं।
जबकि सचिव पद पर वंशीधर तिवारी और प्रकाश चंद दुमका तैनात रहे। ओर पिछले कही सालो से इनके कार्य करने पर सवाल उठे है बोलता उत्तराखंड सरकार से माग करता है कि इन सभी अधिकारीयो की सम्पति की जांच होनी चाइए या फिर सरकार इनसे अपनी सम्पति सार्वजनिक करने को कहे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here